iimt haldwani

हल्द्वानी- पहाड़ में रात को अकेले सफर करते है तो एक बार जरुर पढ़े ये खबर, नहीं दोहराएंगे ये गल्ती

268

हल्द्वानी- न्यूज टुडे नेटवर्क: काठगोदान थाना क्षेत्र में रानीबाग के पास दो दिन पहले लूटे गए ट्रक को पुलिस ने बरामद कर लिया है। पुलिस ने स्वराज माजदा ट्रक की लूट में शामिल दो आरोपियों को भी दबोचा है। क्षेत्राधिकारी डीसी ढौंडियाल ने आज काठगोदाम थाने में मामले का खुलासा करते हुए बताया कि देर रात दो बदमाश रानीबाग के पास से यात्री बनकर ट्रक में बैठे थे। जिसके बाद मौका मिलते ही दोनो ने ट्रक चालक के साथ जमकर मारपीट कर उससे नकदी लूट ली। इतना ही नहीं जान से मारने की धमकी देते हुए दोनो ने ड्राइवर के एटीएम से भी 30,000 रुपये निकलवा लिए। जिसके बाद दोनो ने मोटर मालिक को हाईकोर्ट के जज की गाड़ी से ट्रक का ऐक्सिडेंट होने का फर्जी बहाना बना कर 65,000 रुपये फौरन लाने को लेकर फोन किया। जिसके बाद दोनो ट्रक लूटकर फरार हो गए। इधर फोन आने के बाद ट्रक स्वामी ने काठगोदाम थाने में ट्रक गायब होने की रिपोर्ट दर्ज करायी।

amarpali haldwani

हाइकोर्ट के जज के नाम पर की लूट

जानकरी मुताबिक 23 जनवरी को दीपक सिंह बिष्ट पुत्र नारायण सिंह मिनी ट्रक को लेकर हल्द्वानी से बागेश्वर काण्डा की ओर जा रहा था कि तभी नरेन्द्र चन्द्र आर्या पुत्र सतीश चन्द्र आर्या व संजय कुमार आर्या पुत्र दयाल राम आर्या निवासी ग्राम जून स्टेट भीमताल ने यात्री का वेश धारण कर दीपक की गाड़ी में सवार हो गए। जिसके बाद मौका मिलते ही आरोपियों ने दीपक के साथ जमकर मारपीट करते हुए उससे 5600 रुपये की नगदी के साथ ही उसका एटीएम कार्ड भी छीन लिया। आरोपियों ने दीपक के एटीएम से 30000 की रकम भी दीपक के माध्यम से निकलवा ली। साथ ही दीपक के वाहन स्वामी को फोन कर यह इत्तला दी कि दीपक ने अपने वाहन से हाईकोर्ट जज की गाड़ी को क्षतिग्रस्त किया है।

उन्होंने दीपक के वाहन स्वामी से 65 हजार रुपये की अतिरिक्त मांग की और दीपक को घटनास्थल पर छोड़ गाड़ी लूटकर फरार हो गये। जिसके बाद लूट की सूचना काठगोदाम थाने में दर्ज करायी गयी। पुलिस ने अज्ञात के खिलाफ मामला दर्ज कर अपनी कार्यवाही शुरू कर दी। आज काठगोदाम थानाध्यक्ष कमाल हसन ने दोनों आरोपियों को गौला पुल के समीप से चेकिंग अभियान के दौरान धर दबोचा। वहीं सीओ ढौंडियाल ने बताया कि आरोपियों के पास से लूटे हुए 8 हजार छह सौ रुपये की नगदी सहित वाहन संख्या यूके04 सीबी 1670 मिनी ट्रक को बरामद कर उन्हें न्यायालय के समक्ष पेश कर जेल के लिए रवाना कर दिया है। बताया कि आरोपियों के आपराधिक इतिहास को भी खंगाला जा रहा है।