काशीपुर-पति बोला तलाक-तलाक-तलाक, चलती कार से फेंक दिया बाहर

Slider

Kashipur News- नगर में एक तलाक का मामला सामने आया। सरकार द्वारा तीन तलाक कानून लागू करने के बावजूद दहेज दानवों पर कोई फर्क नहीं पड़ रहा है। ताजा प्रकरण काशीपुर का है। यहां एक युवक ने अपनी पत्नी से कार व पांच लाख रुपये की मांग की, न मिलने पर पत्नी को तीन तलाक देकर चलती कार से बाहर फेंक दिया। रोती-बिलखती विवाहिता मायके पहुंची। जिसके बाद विवाहिता ने पति, सास, ननद, ननदोई और जेठ के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया है।

talak
मामला ग्राम समोदिया थाना स्वार क्षेत्र का है। यहां रहने वाले खलील अहमद ने अपनी बेटी मेहर जहां का निकाह छह साल पूर्व ग्राम सरबरखेड़ा, थाना कुंडाए काशीपुर निवासी हाजी मसीतुल्ल के बेटे फरीद अहमद से किया था। आरोप है कि दहेज में पांच लाख रुपये और कार न देने पर पति फरीद अहमद, सास कन्नीज बेगम, नंद सबनम बी, ननदोई रईस अहमद,जेठ नफीस अहमद उत्पीडऩ करने लगे। तमाम प्रताडि़ओं के बीच मेहरजहंा ने एक पुत्र को जन्म दिया। लेकिन इसके बाद भी ससुराली उसका उत्पीडऩ करते रहे।

Slider

विगत 18 अप्रैल 2019 को ससुराल वालों ने लात-घूंसों से विवाहिता को पीटा। बुधवार को मेहरजहां रोते हुए घर पहुंची और बताया कि पति ने गांव के पास में ही उसे तीन तलाक बोलकर चलती कार से धक्का देकर बाहर फेंक दिया। जिसके बाद पुलिस में उसने ससुराल वालों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया।

उत्तराखंड की बड़ी खबरें