कालाढूंगी- बीट वाचर की गोली मारकर हत्या करने वाला मुख्य आरोपी गिरफ्तार, पुलिस पूछताछ में खोले कई राज

Slider

Haldwani news, कालाढूंगी की बरहैनी रेंज में बीट वाचर की गोली मारकर की गई हत्या मामले में पुलिस ने फरार चल रहे चौथे मुख्य आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। मौके पर पुलिस ने आरोपी के पास से एक बंदूक 12 बोर, एक खाली खोखा 12 बोर, कारतूस, मोबाइल और नकदी बरामद की है। पुलिस जानकारी मुताबिक आरोपी लखविंदर सिंह उर्फ लक्खी पुत्र स्वर्गीय जग्गा सिंह निवासी हरिपुरा हरसान थाना बाजपुर उधमसिंह नगर ने अपने साथियों के साथ मिलकर मृतक बहादुर सिंह चौहान और उनके साथी महेंद्र सिंह पर उस वक्त हमला कर दिया था।

जब लड़की चोरी की सूचना पर वह दोनो बरहैनी वन क्षेत्र में रात्री गश्त के लिए निकले थे। हादसे में बहादुर सिंह चौहान गोली लग गई थी। जिसके बाद उन्हें फौरन हल्द्वानी के सुशीला तीवारी अस्पताल ले जाया गया। जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। इधर लड़की तस्करों के इस हमले में महेंद्र सिंह भी गंभीर घायल हो गए थे।

Slider

kaladungi forest guard murder case

नदी किनारे झाड़ियों में छिपाई बंदूक

पुलिस जानकारी मुताबिक मुखबिर से मिली सूचना पर आरोपी लखविंदर सिंह को राधे हरी डिग्री कॉलेज काशीपुर के सामने सड़क किनारे खड़े सेमल के पेड़ के पास से गिरफ्तार किया गया। बीट वाचर की हत्या के बाद आरोपी ग्वालियर फरार हो गया था। जिसके बाद वह काशीपुर अपनी पत्नी और बच्ची को लेने के लिए आया था। जहां पुलिस ने उसे दबोच लिया। वही पुलिस पूछताछ में आरोपी ने बताया कि अपने साथी करन, परमजीत उर्फ पप्पू, सूरज के साथ वह घटना की रात खैर की लकड़ी चोरी करने के लिए गया था।

तभी वन विभाग की टीम आ गई। इसी दौरान आरोपी वन कर्मियों पर गोलियां बरसा कर वहा से फरार हो गए। और बंदूक बोर नदी के किनारे झाड़ियों में छिपा दी। बताया कि वह कई सालों से लकड़ी चोरी करता आया है। पुलिस अनुसार आरोपी कई अपराधिक मामलो में पहले भी जेल जा चुका है। इतना ही नहीं 2013 में यह हल्द्वानी से पुलिस अभिरक्षा से भी फरार हुआ था।

उत्तराखंड की बड़ी खबरें