drishti haldwani

हल्द्वानी-डीपीएस में जूनियर विंग वार्षिकोत्सव की मची धूम, बाहुबली बना आकर्षण का केन्द्र

1933

हल्द्वानी-न्यूज टुडे नेटवर्क-रामपुर रोड स्थित दिल्ली पब्लिक स्कूल में जूनियर विंग का वार्षिकोत्सव बड़े ही धूमधाम के साथ मनाया गया। इस मौके पर कार्यक्रम का शुभारम्भ मुख्य अतिथि जिलाधिकारी विनोद कुमार सुमन एवं डीपीएस हल्द्वानी के प्रो वाइस चेयरमैन विवेक अग्रवाल ने दीप प्रज्ज्वलित एवं मंत्रोच्चार के साथ किया। हिमालया ग्रुप एवं दिल्ली पब्लिक स्कूल के संस्थापक स्व. हजारी लाल अग्रवाल जी को श्रद्धांजलि प्रदान की गयी।वही स्कूल प्रबंधन की ओर से मुख्य अतिथि जिलाधिकारी विनोद कुमार सुमन एवं विशिष्ट अतिथि हिमालयन एजुकेशनल सोसायटी के चेयरमैन भूमेश अग्रवाल जी का स्वागत करते हुए सम्मानित किया गया। छात्राओं ने सरस्वती वन्दना की। इस अवसर पर स्कूल के नन्हे-मुन्ने बच्चों ने रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रम पेश किए। कार्यक्रम में बच्चों ने इन्द्रधनुष के कई रंगों के संदेशों को कार्यक्रमों के जरिए बखूबी दर्शाया। इन्द्रधनुष के रंग मिलकर ही अमन एवं शांति के प्रतीक सफेद रंग को बनाते हैं।

iimt haldwani

बच्चों को मोबाइल व इंटरनेट से रखें दूर- डीएम

कार्यक्रम के मुख्य आकर्षण बाहुबली, स्काई इज ब्लू, जंगल बुक, गीव मी फ्रीडम, माई हार्ट इज बीटिंग आदि रहे। समारोह का विषय जब हम अपनी स्वयं की पहचान खो देते हैं, तो हम एक बड़ी पहचान बनाते हैं जो मानवता का उत्सव मनाती है और हमें ईश्वर की संतान बनाती है। हम शांति का निर्माण करते हैं। मुख्य अतिथि ने कहा कि मुझे बच्चों के बीच उपस्थित होने में अत्यन्त हर्ष का अनुभव हो रहा है। ये बच्चे उन सुकुमार पौधों के समान है जो आगे चलकर एक विशाल वृक्ष का रूप धारण कर समाज को स्वादिष्ट फल प्रदान करेंगे। उन्होंने अपनी यादों को दर्शकों के साथ साझा किया। उन्होंने सभी अभिभावकों से निवेदन किया कि वे अपने नौनिहालों को अधिक से अधिक समय दें, उन्हें मोबाइल, इंटरनेट की दुनिया से दूर रखें तथा अच्छे खानपान पर ध्यान दें। उन्होंने सभी छात्रों के उज्ज्वल भविष्य की कामना की।

हमारा लक्ष्य बच्चों को लक्ष्य प्राप्त करावाना- अग्रवाल

डीपीएस के प्रो. वाइस चेयरमैन विवेक अग्रवाल ने कहा कि विद्यालय में वार्षिकोत्सव का विशेष महत्व है, क्योंकि उद्देश्य विद्यार्थियों में आत्म-संयम, विद्यालय की प्रगति में सहयोग देना और अभिभावकों से सम्पर्क स्थापित करना होता है। उन्होंने ईशोपनिषद् मंत्र विद्ययामृतमश्नुते, अर्थात् व्यक्तिविद्या से अमृतत्व प्राप्त करता है कहते हुए कहा कि हमारा उद्देश्य भी अपने विद्यार्थियों को उच्च लक्ष्य प्राप्त करवाना है।

बच्चों को स्मृति व प्रमाण पत्र देकर किया सम्मानित

प्रधानाचार्या रंजना शाही ने वहां मौजूद अभिभावकों का आभार प्रकट किया। कहा कि दिल्ली पब्लिक स्कूल हल्द्वानी का उद्देश्य सुरक्षित शिक्षा के माहौल में समग्र विकास प्रदान करना है जो युवाओं को चुनौतियों के लिए तैयार करता है। इस अवसर पर शैक्षिक सत्र की विभिन्न गतिविधियों में प्रथम आए छात्रों एवं अभिभावकों को प्रमाण पत्र व स्मृति चिन्ह देकर सम्मानित किया। इस दौरान रीता अग्रवाल, श्रेयल अग्रवाल, तुषारिका अग्रवाल, बृजेश रानी, शशांक बंसल, भगवान सहाय अग्रवाल, सुभाष गुप्ता आदि मौजूद थे। अभिभावकों ने विद्यालय की प्रधानाचार्या एवं अध्यापकों के कार्यों की भूरि-भूरि प्रशंसा की ।