drishti haldwani

जिलाधिकारी ने महिला चिकित्सालय में आशा घर का किया शुभारंभ, मिलने जा रहीं ये सुविधाएं

354

हल्द्वानी- जिलाधिकारी सविन बंसल के निर्देशों पर महिला चिकित्सालय बेस में बनाये गए आशा घर का फीता काटकर जिलाधिकारी ने शुभारम्भ किया। महिला चिकित्सालय में पुराने चिकित्सालय भवन की मरम्मत एवं जीर्णोद्वार कर आशा कार्यकत्रियों के लिए विश्राम गृह बनाया गया है, जिससे आशा कार्यकत्रियों को चिकित्सालय रुकने में किसी भी प्रकार की समस्या का सामना न करना पड़े।

iimt haldwani

dm4

जिले सभी महिला चिकित्सालय में बनेंगे आशा घर

आशा कार्यकत्रियों को सम्बोधित करते हुए जिलाधिकारी बसंल ने कहा कि आशा कार्यकत्रियो को अक्सर गर्भवती महिलाओं को टीकाकरण कराने व संस्थागत प्रसव कराने ,जच्चा -बच्चा को देखने व अन्य कार्यो हेतु चिकित्सालय में आना पड़ता है व चिकित्सालय में रुकना पड़ता है। संस्थागत प्रसव हेतु आशाओं के देर-सवेर आने पर उनकी सुरक्षा को देखते हुऐ महिला चिकित्सालय में आशा कार्यकत्रियों के लिए आशा -घर बनाया गया है। उन्होने कहा कि जनपद के सभी महिला चिकित्सालयों मे आशा-घर शीघ्र बनाये जायेंगे।

dm3

जिलाधिकारी ने कहा कि स्वास्थ विभाग द्वारा चलाये जा रहे कार्यक्रमों के संचालन मे आशा, कार्यकत्रियों की अहम भूमिका होती है। इसलिए आशाओं को सुविधा देना हमारा दायित्व है। उन्होने कहा कि आशाओं का मानदेय व अन्य क्लेम समय से दिया जायेगा तथा आशाओं की सुविधा हेतु ऑनलाइन पोर्टल बनवाया जा रहा है जिसमें आशा कार्यकत्रियां अपने बिल व भुगतान देख सकेंगी, जिससे आशाओं को अपने भुगतान की जानकारियां प्राप्त होगी तथा भुगतान प्रणाली में पारदर्शिता भी आयेगी।

dm1

जिलाधिकारी ने सभी आशा कार्यकत्रियों से कहा कि गर्भवती महिलाओं एवं जच्चा-बच्चा का निर्धारित समय पर जॉच एवं टीकाकरण कराने के साथ ही शतप्रतिशत संस्थागत प्रसव कराना सुनिश्चित करें ताकि मातृ-शिशु मृत्युदर को शून्य स्तर पर लाया जा सकें। कार्यक्रम मे अपर मुख्य चिकित्साधिकारी डा. रश्मि पन्त ने सभी अतिथियों का स्वागत करते हुए आशा कार्यकत्रियों से कहा कि वे स्वास्थ विभाग के अभिन्न अंग है इसलिए क्षेत्रों मे जाकर स्वास्थ सुविधायें, कार्यक्रमों का प्रचार-प्रसार करें व पूरी तन्मयता से जनता की सेवा करें।

dm2

कई उपकरण खरीदने के निर्देश

जिलाधिकारी ने महिला चिकित्सालय बेस का निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान उन्होंने ऑपरेशन पूर्व जांच कक्ष, पीएनसी, प्राईवेट वार्ड, प्रसव कक्ष, एसएनसीयू, सर्जिकल वार्ड, ऑपरेशन पूर्व विश्राम वार्ड, ऑपरेशन कक्ष, ओपीडी, अल्ट्रासाउंड कक्ष, प्रतिरक्षण कक्ष आदि का निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान उन्होंने ऑपरेशन थिएटर कक्ष हेतु ऑटोक्लेव, ब्रीथिंग मशीन, ऑटोलैम्प के साथ ही वार्डों हेतु स्पिलिट एसी, हीट पिलर, गर्मपानी हेतु केतली आदि उपकरण खरीदने के निर्देश एवं स्वीकृति दी। उन्होंने कहा कि महिला चिकित्सालय में पर्यटन विभाग के माध्यम से नया शौचालय बनाया जायेगा। कार्यक्रम व निरीक्षण में मुख्य चिकित्सा अधीक्षिका डॉ.भागीरथी जोशी, सिटी मजिस्ट्रेट प्रत्यूष सिंह, उप जिलाधिकारी विवेक रॉय, सीओ डीसी ढौडियाल, के अलावा डॉ.कल्पना, मेटर्न मंजू केड़ा, अनीता वर्मा सहित आशा कार्यकत्रियां मौजद थी।