हल्द्वानी- लापता व्यापारी जसप्रीत की यहां मिली अगली लोकेशन, पहुंची पुलिस तो हुआ सिर्फ ये तमाशा

Slider

हल्द्वानी- न्यूज टुडे नेटवर्क: दिल्ली में लापता हुए हल्द्वानी के व्यापारी का चार दिन बाद भी कोई सुराग नहीं मिला है। लापता के परिजन हल्द्वानी और दिल्ली पुलिस के साथ मिलकर उसकी तलाश में जुटे हुए है। वही मामले में एसएसपी नैनीताल जन्मेजय खंडूरी ने जसप्रीत की खोजबीन के सिलसिले में डीसीपी साउथ दिल्ली विजय कुमार से संपर्क साधा है। जिसके बाद डीसीपी द्वारा लापता की तलाश में दिल्ली में टीमें गठित की गई है। वही जसप्रीत बिंद्रा के भाई समेत करीब पांच लोग अभी भी दिल्ली पुलिस के साथ खोजबीन में जुटे हुए है। जसप्रीत के भाई ने बताया कि वह दिल्ली में लगातार उसे ढूढऩे का प्रयास कर रहे है।

यहां ट्रेस हुई जसप्रीत की लोकेशन

एसएसपी नैनीताल जन्मेजय खंडूरी ने जानकारी दी कि दिल्ली पुलिस जसप्रीत बिंद्रा के बैंक खातों पर लगातार नज़र बनाए हुए है। इतना ही नहीं खाते से जसप्रीत ने कब-कब लेनदेन किया है पुलिस इसकी भी जांच कर रही है। वही पुलिस जानकारी अनुसार जसप्रीत के फोन की लोकेशन दो दिन पहले पूना के पास नसरापुर में ट्रेस की गई है। जहां जब पुलिस व जसप्रीत के परिजनों के जाकर छानबीन की तो लोकेशन महज एक तमाशा बन कर रह गई। क्यों कि वहा के होटल-रेस्टूरेंट में पूछताछ के बाद भी कुछ हाथ नहीं आया। जिसके बाद से उसका फोन दोबारा ऑफ हो गया है। इधर अफवा ये भी है कि जसप्रीत की मोबाईल लोकेशन गोवा में भी ट्रेस हुई है। फिलहाल जसप्रीत के मोबाईल फोन पर पुलिस पैनी नज़र बनाए हुए है। लोकेशन ट्रेस करने का दिल्ली पुलिस लगातार प्रयास कर रही है।

Slider
लापता जसप्रीस बिंद्रा

दिल्ली से लापता हुआ था जसप्रीत

गौरतलब है कि गुरूनानकपुरा का रहने वाला कपड़ा व्यापारी जसप्रीत बिंद्रा दुकान की खरीद्दारी करने लिए हल्द्वानी से दिल्ली गया था। इस दौरान परिजनों की उससे लगातार बात होती रही। लेकिन बाद में अचानक उसका फोन बंद हो गया। परिजनों ने इसकी सूचना पुलिस को दी खबर सुन पुलिस विभाग में हडक़ंप मच गया। तहरीर के आधार पर पुलिस ने जांच शुरू कर दी है। बीते शनिवार को दिल्ली पहुंचने पर दिन में करीब 12 बजे तक परिजनों की उसे फोन पर बात हुई। इसके बाद मेट्रों स्टेशन के आसपास दिन में करीब दो बजे उसका फोन बंद हो गया। इसकी चिंता परिजनों को हुई तो उन्होंने लगातार जसप्रीत से संपर्क करने की कोशिश की लेकिन उसका फोन नहीं लगा। थक हारकर परिजनों ने भोटिया पड़ाव चौकी में उसे लापता होने की तहरीर दी। मामले में पुलिस जांच जारी है।

उत्तराखंड की बड़ी खबरें