inspace haldwani
Home देश सेक्स चेंज कराने वाली गुजरात की पहली महिला डाक्टर हैं जेसनूर दयारा,...

सेक्स चेंज कराने वाली गुजरात की पहली महिला डाक्टर हैं जेसनूर दयारा, जानिए इनकी कहानी के बारे में…

न्‍यूज टुडे नेटवर्क।  डा जेसनूर दयारा गुजरात की पहली ट्रांस महिला डॉक्टर हैं। दयारा ने हाल ही में सेक्‍स चेंज कराया है इस प्रक्रिया के बाद अब दयारा खुद को खुला खुला महसूस कर रही हैं। पुरूष से महिला बनीं डा दयारा अब जल्‍द ही मां बनने का सपना देख रही हैं। दयारा बताती हैं कि सालों बाद अब खुलकर जीने की तमन्‍ना जागी है। अभी तक उन्‍होंने अपने भीतर के स्‍त्रीत्‍व को छिपाए रखा था अब उनकी मां बनने की इच्‍छा है।

डाक्‍टरी की डिग्री लेने के लिए उन्‍होंने एक रूसी विश्वविद्यालय से एमबीबीएस की डिग्री हासिल की, उनका जन्म गुजरात के छोटे से शहर गोधरा में हुआ था। वह बचपन से समझ गई थी की उनका शरीर भले ही पुरुष का है लेकिन अंदर से वह एक महिला जैसा महसूस करती है। वह अपने बचपन को याद करते हुए बताती है कि कैसे बचपन में वह साड़ी पहनने के लिए तरसती थी और लिपस्टिक का इस्तेमाल अपनी माँ और बहन की तरह करती थी। भले ही वह महिला की तरह महसूस करती थी लेकिन उन्होंने अपने आंतरिक स्त्री को छिपाए रखा, वह नहीं चाहती थी कि उनका परिवार  दयारा के बारे में गलत महसूस करे। दयारा  जब मेडिकल की पढ़ाई के लिए विदेश गई तब वह पूरी तरह से अजाद हुई और उन्हें एक नई पहचान मिली। उन्होंने हिम्मत करी और वास्तविकता को अपनाया। दायरा की इस वास्तविकता को उनके परिवार वालों ने भी अपनाया।

टीओआई की एक खबर के मुताबिक, दयारा मेडिकल काउंसिल ऑफ इंडिया द्वारा आयोजित योग्यता परीक्षा की तैयारी कर रही हैं ताकि वह भारत में अभ्यास कर सकें। परीक्षा के बाद उनकी सेक्स रिवीजन सर्जरी होनी है। सेक्स चैंज कराने के बाद दायरा का एक ही सपना है और वह है मां बनने का। दायरा ने टीओआई से कहा कि, ” देवी काली ने मुझे एक महिला बनने की ताकत दी है।एक महिला एक पिता, एक मां और एक दोस्त सब बन सकती है।  उन्होंने आगे कहा कि, गर्भाशय आपको मां नहीं बनाती है बल्कि एक प्यारा दिल आपको मां बनाता है।

आपको बता दें कि लोकसभा में पारित सरोगेसी (विनियमन) विधेयक, 2019, के अनुसार किसी भी एक पुरुष या एक एलजीबीटीक्यू जोड़े या एक लिव-इन रिलेशनशिप जोड़े को सरोगेसी का ऑप्शन चुनने  की अनुमति नहीं देता है। विधेयक को उच्च सदन और राष्ट्रपति की मंजूरी का इंतजार है। डॉ दयारा ने कहा, “एक माँ बनने के लिए, मैं दुनिया भर में सरोगेसी के ऑप्शन की तलाश में रहूंगी,मुझे खुद को स्वीकार करने और अपने परिवार और समाज को मुझे स्वीकार करने के लिए बहुत हिम्मत की जरूरत लगी है। मैं बायोलॉजिकल माता-पिता बनकर अपने और अपने जैसे अन्य लोगों के लिए एक नया अध्याय लिखना चाहती हूं। ”

Related News

उज्‍जेन: भूगर्भीय हलचल के चलते हो रहे है शिप्रा में धमाके, धमाके के बाद 10 फिट तक उछला पानी, किसी आपदा की चेतावनी या...

न्‍यूज टुडे नेटवर्क। उज्जैन मध्‍यप्रदेश में शिप्रा नदी के त्रिवेणी घाट पर कुछ दिनों से तेज धमाकों के बाद आग की लपटें निकल रही...

पोखरण: सैन्‍य आयुध अभ्यास के दौरान तोप से निकला गोला फटा, एक जवान शहीद

न्‍यूज टुडे नेटवर्क। सेना की फायरिंग रेंज में अभ्‍यास के दौरान तोप से निकलते ही गोला फट जाने की वजह से एक जवान की...

संपूणार्नंद संस्कृत विश्वविद्यालय के 38 वें दीक्षांत समारोह में बोलीं राज्यपाल- विद्यार्थियों के घरों तक पहुंचेंं उनकी उपाधियां

न्‍यूज टुडे नेटवर्क। उत्तर प्रदेश की राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने मंगलवार को यहां कहा कि  विश्वविद्यालयों में वर्षों से रखी विभिन्न कक्षाओं की  उपाधियां...

अयोध्या: मर्यादा पुरूषोत्तम एयरपोर्ट के लिए योगी सरकार ने खोला खजाना,युद्ध स्तर पर निर्माण कार्य जारी

न्‍यूज टुडे नेटवर्क। अयोध्‍या एयरपोर्ट के विस्‍तारीकरण के लिए योगी सरकार ने खजाना खोल दिया है। अब वह दिन दूर नहीं, जब देश दुनिया...

आईपीएल: मैच मैदान को लेकर हैदराबाद, राजस्थान और पंजाब का पारा गरम, आपत्ति जताई

न्‍यूज टुडे नेटवर्क। राजस्थान रॉयल्स, पंजाब किंग्स और सनराइजर्स हैदराबाद ने इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के 14वें सत्र के आयोजन स्थलों को लेकर आपत्ति...

पीएम मोदी बोले- कृषि क्षेत्र में प्राइवेट सेक्टर की भागीदारी बेहद जरूरी

न्‍यूज टुडे नेटवर्क। प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने कहा है कि अब समय आ गया है जब कृषि क्षेत्र में प्राइवेट सेक्‍टर का योगदान भी...