जनाब ! यहां तो खुले आसमान के नीचे टार्च की रोशनी में हो रहा पोस्टमार्टम, पुलिस बनी रही मूकदर्शक

Slider

छत्तीसगढ़ के जशपुर जिले में घायल पहाड़ी कोतबा को एम्बुलेंस न मिलने के कारण 10 किमी. कंधे पर लादकर अस्पताल पहुंचाने के दो दिनों बाद ही स्वास्थ्य विभाग की एक और बढ़ी लापरवाही सामने आई है। दुर्घटना में मृत युवक का डॉक्टर ने खुले आसमान के नीचे टॉर्च और चारपहिया वाहन की रोशनी में जमीन पर ही पोस्टमार्टम कर दिया। ऐसे में स्थानीय लोगों ने खुले में पोस्टमार्टम करने पर अपनी नारजगी जताई।

ff

Slider

जमीन पर कर दिया पोस्टमार्टम

मामला जशपुर जिले के कोतबा का है, जहां ट्रैक्टर से दबकर 18 वर्षीय युवक भोगेन्द्र साय की घटनास्थल पर ही मौत हो गई। शव को पोस्टमार्टम के लिए दोपहर 2 बजे दूसरे ट्रैक्टर की ट्राली में लाद कर कोतबा नगर पंचायत स्थित पोस्टमार्टम हाउस पहुंचाया गया जहां डॉक्टर शाम 7.45 बजे टार्च और चार पहिया वाहन की रोशनी में खुले आसमान के नीचे जमीन पर युवक का पोस्टमार्टम कर दिया।

मीडिया कर्मियों से बदसलूकी

पोस्टमार्टम कवरेज करने पहुंचे मीडिया कर्मियों से डॉ ने बदसलूकी की, बिलासपुर में पत्रकारों से गाली-गलौज करते एक डॉक्टर का वीडियो वायरल हुआ है। ये वीडियो बिलासपुर सिम्स का है, जिसमें डॉक्टर मीडियाकर्मियों से हाथापाई की और भद्दी-भद्दी गालियां देते नजर आ रहे हैं। इस दौरान वहां पुलिसकर्मी भी मौजूद रहे।

उत्तराखंड की बड़ी खबरें