iimt haldwani

खुद का कारोबार करना हुआ आसान, अब इस बिजनेस को शुरू करने के लिए सरकार दे रही 90 फीसदी लोन

161

Self Business(Rozgar), अगर आप कम पैसे में बिजनेस करना चाहते हैं तो जिस बिजनेस की हम बात करने जा रहे है। यह बिजनेस आपके लिए फायदेमंद साबित हो सकता है। इस बिजनेस की खास बात यह है कि इसे शुरू करने के लिए सरकार आपको प्रोजेक्ट कॉस्ट का 90 फीसदी लोन देगी। यह ऐसा बिजनेस है जिसकी डिमांड दिनोंदिन बढ़ती जा रही है।

amarpali haldwani

हम बात कर रहे हैं sanitary napkin का बिजनेस शुरू करने के बारें में। आप महज 15 हजार रुपये के निवेश से sanitary napkin यूनिट लगा सकते हैं, जिससे आप पहले साल में 1.10 लाख रुपये तक कमा सकते हैं, जबकि अगले साल से आपका मुनाफा दोगुना हो सकता है। Government mudra scheme के तहत बिजनेस प्रोजेक्ट्स में sanitary napkin को भी शामिल किया है।

sanitary napkin business manufacture

प्रोजेक्ट रिपोर्ट के मुताबिक, रोजाना 1440 नेपकिन बनाने की यूनिट के बारे में बताया गया है। आठ नैपकिन एक पैकेट में पैक किए जाएं तो रोजाना 180 पैकेट का प्रोडक्‍शन किया जा सकता है। इस रिपोर्ट के मुताबिक, अगर आप sanitary napkin का छोटा सा बिजनेस शुरू करना चाहते हैं तो आप केवल 16X16 फुट के कमरे में यह यूनिट लगा सकते हैं।

प्रोजेक्ट रिपोर्ट के मुताबिक, अगर आप 180 पैकेट रोजाना प्रोडक्‍शन के लिए यूनिट लगाते हैं आपका प्रोजेक्‍ट 1.45 लाख रुपये में शुरू हो जाएगा। इसके लिए आपको 90 फीसदी यानी 1.30 लाख रुपये का मुद्रा लोन मिल जाएगा तो आपको अपनी ओर से 15 हजार रुपये ही लगाने होंगे।

रिपोर्ट के मुताबिक, आपको डिफाइबरेशन मशीन, कोर मॉर्निंग मशीन, सॉफ्ट टच सीलिंग मशीन, नेपकिन कोर डाइ, यूवी ट्रीट यूनिट लेनी होगी और इनके इंस्‍टॉलेशन के साथ आपको ये मशीनें लगभग 70 हजार रुपये में मिल जाएंगी। आपको वुड पल्‍प, टॉप लेयर, बैक लेयर, रिलीज पेपर, गम, पैकिंग कवर रॉ-मैटेरियल के तौर पर लेना होगा। रिपोर्ट में कहा गया है कि एक माह का रॉ-मैटेरियल लगभग 36 हजार रुपये में आ जाएगा।

 business ideas opportunity

क्या होगा प्रोडक्‍शन कॉस्ट?

रिपोर्ट में बताया गया है कि साल भर में 300 दिन काम किया गया तो 54000 पैकेट का प्रोडक्‍शन होगा, जिसकी कॉस्‍ट इस प्रकार होगी। रॉ-मैटेरियल पर 4.32 लाख रुपये, सैलरी पर 84 हजार रुपये, प्रशासनिक खर्च पर 27 हजार रुपये, डेप्रिशिएसन पर 8 हजार रुपये, इंश्‍योरेंस पर 800 रुपये, रिपेयर मेंटनेंस पर 4 हजार रुपये, इंटरेस्‍ट ऑन कैपटिल पर 18 हजार रुपये, सेलिंग खर्च पर 16200 रुपये यानी कुल खर्च 5.90 लाख रुपये होंगे।

रिपोर्ट में अनुमान लगाया गया है कि यदि sanitary napkin का एक पैकेट आप थोक बाजार में 13 रुपये की कीमत में बेचते हैं तो आपको लगभग 7.02 लाख रुपये की कुल बिक्री कर पाएंगे। ऐसे में आपकी कुल बिक्री अगर 7.02 लाख रुपये होगी तो आपका मुनाफा लगभग 1.08 हजार रुपये होगा, जो कि अगले साल मशीनरी पर होने वाले खर्च को कम कर दिया जाए तो आपका मुनाफा और बढ़ सकता है।