चीन और दक्षिण कोरिया के विशेषज्ञों ने इंटरनेट वातावरण में कॉपीराइट के सामने आने वाली नई चुनौतियों पर विचार-विमर्श किया

बीजिंग, 6 अगस्त (आईएएनएस)। 5 अगस्त को 2022 चीन-दक्षिण कोरिया कॉपीराइट संगोष्ठी पेइचिंग और सियोल में लाइव और वीडियो कनेक्शन के माध्यम से आयोजित हुई। इस संगोष्ठी का प्रमुख मुद्दा इंटरनेट वातावरण में कॉपीराइट के सामने नई चुनौतियां है। चीन, दक्षिण कोरिया और संबंधित अंतरराष्ट्रीय कॉपीराइट संघों, संगठनों और उद्योगों के प्रतिनिधियों ने इसमें भाग लिया।
 | 
चीन और दक्षिण कोरिया के विशेषज्ञों ने इंटरनेट वातावरण में कॉपीराइट के सामने आने वाली नई चुनौतियों पर विचार-विमर्श किया बीजिंग, 6 अगस्त (आईएएनएस)। 5 अगस्त को 2022 चीन-दक्षिण कोरिया कॉपीराइट संगोष्ठी पेइचिंग और सियोल में लाइव और वीडियो कनेक्शन के माध्यम से आयोजित हुई। इस संगोष्ठी का प्रमुख मुद्दा इंटरनेट वातावरण में कॉपीराइट के सामने नई चुनौतियां है। चीन, दक्षिण कोरिया और संबंधित अंतरराष्ट्रीय कॉपीराइट संघों, संगठनों और उद्योगों के प्रतिनिधियों ने इसमें भाग लिया।

इस वर्ष चीन और दक्षिण कोरिया के बीच राजनयिक संबंधों की स्थापना की 30वीं वर्षगांठ के साथ दोनों देशों के बीच सांस्कृतिक आदान-प्रदान वर्ष भी है। इस संगोष्ठी को चीन-दक्षिण कोरिया सांस्कृतिक आदान-प्रदान वर्ष के लिए परियोजनाओं की सूची में शामिल किया गया, जो आपसी राजनीतिक विश्वास को मजबूत करने, लोगों के बीच दोस्ती बढ़ाने और द्विपक्षीय संबंध के स्थिर और दीर्घकालिक विकास को बढ़ावा देने में कॉपीराइट की महत्वपूर्ण भूमिका को दर्शाता है।

chaitanya

इस संगोष्ठी ने इंटरनेट वातावरण में चीन और दक्षिण कोरिया में कॉपीराइट संरक्षण और औद्योगिक विकास जैसे मुद्दों पर चर्चा की, जो तकनीकी और कॉपीराइट नवाचार की उपलब्धियों और आकर्षण को दर्शाता है। वर्तमान में दोहराई जाने वाली महामारी और जटिल और गंभीर अंतरराष्ट्रीय के संदर्भ में यह बहुत महत्वपूर्ण है।

(साभार- चाइना मीडिया ग्रुप, पेइचिंग)

--आईएएनएस

आरएचए