Home उत्तराखंड हल्द्वानी- उत्तराखंड और नेपाल के वन अधिकारियों ने बुना ऐसा "जाल", फंसकर...

हल्द्वानी- उत्तराखंड और नेपाल के वन अधिकारियों ने बुना ऐसा “जाल”, फंसकर रह जायेंगे वन्यजीव तस्कर

नैनीताल:-छह लोगों पर आत्महत्या के लिये उकसाने पर हुआ मुकदमा दर्ज जाने क्या था सारा मामला

नैनीताल के मल्लीताल कोतवाली में छह लोगों के खिलाफ आत्महत्या के लिए उकसाने का मामला दर्ज हुआ है । ठंड के मौसम...

देहरादून- कोरोना से लड़ाई में बाधा बन रही कांग्रेस, जाने क्यों विपक्ष पर बरसे भाजपा प्रदेश अध्यक्ष

उत्तराखंड में कांग्रेसी नेता भाजपा के खिलाफ लगातार धरना प्रदर्शन कर रहे है। इतना ही नहीं त्रिवेन्द्र सरकार की कमियों को जनता तक पहुंचाने...

हल्द्वानी- कोरोनाकाल में इन बिमारियों से जूंझ रहे मरीज रहे सावधान, एसटीएच में हुई इतनी मौतें

हल्द्वानी के सुशीला अस्पताल के चिकित्सकों ने एक खास रिपोर्ट जारी की है। रिपोर्ट में कोरोना के दौरान हुई मौतों में मरीज के शरीर...

देहरादून- इन युवाओं के Lockdown Plan की पूरे उत्तराखंड में है चर्चा, ऐसे दिया ये अनोखा संदेश

देहरादून के दो युवा इन दिनों लॉकडाउन के दौरान अपने कारनामे को लेकर खूब चर्चाओं में है। और हो भी क्यों न सुविधाओं से...

नैनीताल- अधिक नशा बना जान को खतरा, पढ़े पालिका कर्मचारी की ये करतूत

नैनीताल में मंगलवार सुबह उस वक्त अफरा-तफरी मच गई जब शराब के नशे में धुत्त नगर पालिका का एक कर्मचारी नैनीझील में कूद गया।...
Slider

हल्द्वानी- न्यूज टुडे नेटवर्क: भारत – नेपाल सीमा पर वन्यजीव तस्करों की अब खैर नहीं। भारत और नेपाल सीमा पर वन्य जीव संरक्षण और वन्यजीव तस्करी जैसी घटनाओं के रोकथाम के उद्देश्य से आज हल्द्वानी के एफटीआई सभागार में बैठक का आयोजन किया गया। बैठक में नेपाल के वन्यजीव पार्कों के अधिकारियों के साथ ही उत्तराखंड़ के तराई पूर्वी वन प्रभाग और हल्द्वानी वन प्रभाग के अधिकारी मौजूद रहे। बैठक में दोनों देशों के वनाधिकारियों द्वारा वन्य जीवों के संरक्षण की दिशा में बेहतर सामंजस्य स्थापित करने के उद्देश्य से कई महत्वपूर्ण निर्णय लिए गये।

Vanya-Jiv

Slider

बेहतर तालमेल से होगी वन्यजीवों की रक्षा

वन संरक्षक डॉ. पराग मधुकर धकाते ने बताया कि दोनों देशों के वन अधिकारियों के बीच पेट्रोलियम प्रोटोकाल, बेहतर कम्यूनिकेशन के लिए इंडो -नेपाल वॉट्सअप ग्रुप भी बनाया गया है। इसके साथ ही अगली महत्वपूर्ण बैठक के लिए नेपाल के चितवन नेशनल पार्क को चुना गया है जिसमें भारत के वनाधिकारी प्रतिभाग करेंगे। वन संरक्षक पराग मधुकर धकाते ने बताया कि 45 किलोमीटर लंबी नेपाल -भारत वन्य सीमा पर एसएसबी के जवानों की मदद भी ली जzAZ in zqqqaाएगी।

police_14634

इस अवसर पर नेपाल के वन संरक्षक मनोज शाह ने कहा कि नेपाल और भारत की वन्य सीमा पर वन्यजीव तस्करी जैसी घटनाओं को रोकने के फील्ड अफसरों के बीच बेहतर तालमेल होना जरूरी है। इसी उद्देश्य के साथ फील्ड अफसरों की बैठक का आयोजन किया गया।

Related News

नैनीताल:-छह लोगों पर आत्महत्या के लिये उकसाने पर हुआ मुकदमा दर्ज जाने क्या था सारा मामला

नैनीताल के मल्लीताल कोतवाली में छह लोगों के खिलाफ आत्महत्या के लिए उकसाने का मामला दर्ज हुआ है । ठंड के मौसम...

देहरादून- कोरोना से लड़ाई में बाधा बन रही कांग्रेस, जाने क्यों विपक्ष पर बरसे भाजपा प्रदेश अध्यक्ष

उत्तराखंड में कांग्रेसी नेता भाजपा के खिलाफ लगातार धरना प्रदर्शन कर रहे है। इतना ही नहीं त्रिवेन्द्र सरकार की कमियों को जनता तक पहुंचाने...

हल्द्वानी- कोरोनाकाल में इन बिमारियों से जूंझ रहे मरीज रहे सावधान, एसटीएच में हुई इतनी मौतें

हल्द्वानी के सुशीला अस्पताल के चिकित्सकों ने एक खास रिपोर्ट जारी की है। रिपोर्ट में कोरोना के दौरान हुई मौतों में मरीज के शरीर...

देहरादून- इन युवाओं के Lockdown Plan की पूरे उत्तराखंड में है चर्चा, ऐसे दिया ये अनोखा संदेश

देहरादून के दो युवा इन दिनों लॉकडाउन के दौरान अपने कारनामे को लेकर खूब चर्चाओं में है। और हो भी क्यों न सुविधाओं से...

नैनीताल- अधिक नशा बना जान को खतरा, पढ़े पालिका कर्मचारी की ये करतूत

नैनीताल में मंगलवार सुबह उस वक्त अफरा-तफरी मच गई जब शराब के नशे में धुत्त नगर पालिका का एक कर्मचारी नैनीझील में कूद गया।...

देहरादून- घर पर होम आइसोलेट मरीज की कैसे करें देखभाल, पढ़े होम- आइसोलेशन की शर्तें

उत्तराखंड में कोरोना संक्रमित मरीजों के लिए होम- आइसोलेशन की सुविधा सरकार ने शुरू कर दी है। इसके लिए किसी भी संक्रमित मरीज की...