inspace haldwani
Home उत्तरप्रदेश उत्तराखण्ड आपदा में यूपी के भी 55 मजदूर लापता, खीरी और श्रावस्तीे...

उत्तराखण्ड आपदा में यूपी के भी 55 मजदूर लापता, खीरी और श्रावस्तीे से काम पर गए थे, वापस नहीं आए

न्‍यूज टुडे नेटवर्क। उत्‍तराखण्‍ड के चमोली जिले में हुई तबाही में यूपी के श्रावस्‍ती और लखीमपुर खीरी के 50 से अधिक मजदूर फंसे हुए हैं। लापता 153 लोगों में यूपी के करीब 55 मजदूर वहां पर हैं। आपदा की खबर के बाद इन मजदूरों के परिजन परेशान हैं। घरों में मातम का माहौल है। परिजनों ने प्रशासन से मजदूरों की बरामदगी की गुहार लगाई है। रविवार को उत्‍तराखण्‍ड के तपोवन पावर प्रोजेक्‍ट के पास ग्‍लेशियर टूटने से भारी तबाही हुई थी। तबाही के बाद टनल धंसने और टनल में मलबा जमा हो जाने के कारण वहां फंसे मजदूर निकल नहीं पाए। इनमें यूपी के मजदूर भी शामिल हैं।

श्रावस्ती जिले के सिरसिया थाना क्षेत्र का रनियापुर गांव थारू बाहुल्य गांव है। यहां की अधिकांश आबादी दूर दराज क्षेत्रों में जाकर मजदूरी कर अपना और अपने परिवार का पालन पोषण करती है। यहां के रनियापुर गांव के आठ लोग छोटू, वेद प्रकाश, हरिलाल, अजय, प्रभुनाथ, हीरालाल, राजू व राजेश कुछ दिन पूर्व ही मजदूरी करने के लिए गए थे। लेकिन रविवार को जोशी मठ के आगे ग्लेशियर टूटने से आई आपदा में पांच लोग लापता हो गए। उनकी तलाश के लिए प्रशासन से गुहार लगाई गई है।

बताया जा रहा है कि वहां सभी मजदूर कंपनी द्वारा बनाए गए क्वार्टर में रहते थे। रविवार सुबह जब जोशी मठ के आगे ग्लेशियर टूटने से सैलाब आया तो छोटू, वेद प्रकाश, हरिलाल, अजय व प्रभुनाथ कुल 5 लोग लापता हो गए। वहीं इनके सुरक्षित बचे तीनों साथियों का मानना है कि ये पांचों लोग या तो सैलाब की चपेट में आकर कहीं बहकर चले गए हैं। या फिर अपनी जान बचाने के लिए कहीं दूसरे स्थान की ओर सुरक्षित चले गए हैं।

फिलहाल इन पांचों लोगों का अब तक कुछ पता नहीं चल सका है। इन पांचों लोगों के सुरक्षित बचे साथी राजू, हीरालाल व राजेश ने देर शाम को अपने गांव रनियापुर में फोन से परिजनों को घटना की सूचना दी है।जिसके बाद परिजनों सहित पूरे गांव में कोहराम मचा हुआ है वही गांव के लोगों ने लापता पांचों मजदूरों की तलाश के लिए प्रशासन से मदद की गुहार लगाई है।

श्रावस्ती जनपद के रनियापुर गांव में आज तक की टीम ने पहुंचकर पीड़ित परिवारों का हाल जाना। गांव में चारो तरफ मातम का माहौल था हर घर से रोने की आवाज आ रही थी।सभी परिवार के लोग जगह-जगह रोते बिलखते हुए नजर आ रहे थे।श्रावस्ती के एक छोटे से गांव के 5 परिवारों को उत्तराखंड की तबाही ने तबाह कर दिया जिनके आशियानों में आज मातम का माहौल पसरा है।

Related News

किला बवाल प्रकरण-बिलाल घोसी व दूसरे धर्म की छात्रा की love story में नया मोड़

न्यूज टुडे नेटवर्क, बरेली। दूसरे धर्म की लड़की को लेकर भागने वाले बिलाल घोसी प्रकरण में नया मोड़ आ गया है। पुलिस ने दोनों...

देहरादून – हरिद्वार कुंभ 2021की गाइडलाइन हुई जारी, जानिए क्या रहेंगे नियम

देहरादून — मुख्य सचिव ओम प्रकाश ने कुंभ मेला 2021 के लिये कोविड एसओपी को जारी कर दिया है।राज्य सरकारों से लेकर राज्य के...

Bareilly-: अमरूद वाला बच्चियों के सामने कर रहा था ऐसी शर्मनाक हरकत, सीसीटीवी में कैद हुई घटना

न्यूज टुडे नेटवर्क, बरेली। बालाजी विहार में बच्चियों को देखकर एक ठेले वाला अश्लीेल हरकतें करने लगा। अपने पेंट की जिप खोल कर वह...

बरेली: गैस रिसाव होने से खाना बनाते वक्‍त झुलसी बच्‍ची, कही आप भी तो ऐसी गलती नही कर रहे है

न्‍यूज टुडे नेटवर्क, बरेली। शहर के थाना कोतवाली के अन्‍तर्गत बिहारीपुर चौकी के पीछे रहने वाले महेन्‍द्र के घर रसोई गैस का पाईप खराब...

देहरादून – बड़ी खबर – गृह परीक्षाओं को लेकर शासनादेश हुआ जारी , पढ़िए पूरी खबर

देहरादून- उत्तराखंड शिक्षा विभाग से आज की बड़ी खबर सामने आ रही है कि गृह परीक्षाओं के लिए शासनादेश जारी कर दिया गया है शिक्षा...

बरेली: हाथ में टंगा था हेल्‍मेट, एक्‍सीडेंट हुआ और कुचल गया सिर

न्‍यूज टुडे नेटवर्क, बरेली। बिना हेल्‍मेट बाइक चलाना एक युवक को खासा महंगा पड़ा है। यातायात नियमों की अनदेखी के कारण बाइक सवार मामा-भांजे...