लखनऊ-बजट सत्र में विपक्ष ने सांड लेकर किया प्रदर्शन, सपा-बसपा विधायकों ने राज्यपाल पर फेंके कागज के गोले

Slider

लखनऊ-न्यूज टुडे नेटवर्क-आज उत्तर प्रदेश विधानसभा के बजट सत्र के पहले दिन समाजवादी पार्टी, बहुजन समाज पार्टी और कांग्रेस ने जमकर विरोध प्रदर्शन किया। इस दौरान विधानसभा के अंदर राज्यपाल पर कागज के गोले फेंके गए तो विधानसभा के बाहर सांड को लेकर प्रदर्शन किया गया। प्रदर्शन के दौरान एसपी के एक विधायक बेहोश हो गए। जिसके बाद आनन-फानन में उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया। पहले दिन राज्यपाल के अभिभाषण के दौरान समाजवादी पार्टी व बहुजन समाज पार्टी के विधायकों जमकर हंगामा किया। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सदन में सपा-बसपा के इस कृत्य की निंदा की है।

Slider

राज्यपाल वापस जाओ के लगाये नारे

इस दौरान विधानसभा में विपक्ष के हंगामे के बीच राज्यपाल का अभिभाषण संपन्न हो गया। वही समाजवादी पार्टी के सदस्यों ने उनके ऊपर गोले फेंके। राज्यपाल वापस जाओ के नारे लगाए और सरकार विरोधी नारों से माहौल गर्मा दिया। जिसके बाद विधानसभा को बुधवार 11 बजे तक के लिए स्थगित किया गया है। हंगामे के दौरान सपा सदस्य सुभाष पासी बेहोश हुए। जल्दी से उन्हें अस्पताल पहुंचाया गया। सुभाष पासी गाजीपुर जिले के विधायक हैं। आज पहले ही दिन विधान भवन प्रांगण में चौधरी चरण सिंह की प्रतिमा के नीचे के बाद सपा सदस्य विधानसभा में भी धरने पर बैठे।

विपक्ष का यह कृत्य घोर निंदनीय- योगी

इस पर सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि समाजवादी पार्टी और बहुजन समाज पार्टी के विधायकों ने राज्यपाल के अभिभाषण के दौरान उनका जिस तरह का अपमान किया है। हम उसकी निंदा करते हैं। राज्यपाल राम नाईक अपना अभिभाषण पढ़ रहे थे और माननीय लोग अभद्रता की सीमा लांघ रहे थे। इनका यह कृत्य घोर निंदनीय है। किसी भी सत्र से पहले सर्वदलीय बैठक में सदन को अच्छे ढंग से चलाने पर बात होती है, लेकिन जब सत्र चलता है तो बेकार की चीजों में समय बर्बाद किया जाता है। समाजवादी पार्टी अपनी गुंडागर्दी के आचरण से बाहर नहीं आ पा रही है।

उत्तराखंड की बड़ी खबरें