drishti haldwani

हल्द्वानी- कब्ज की समस्या से हैं परेशान तो होम्योपैथिक डा. पाण्डेय से जाने समाधान, इन पांच दवाईयों से होगा लाभ

149

हल्द्वानी-न्यूज टुडे नेटवर्क- कब्ज एक बड़ी समस्या है। साहस होम्योपैथिक के डा. एनसी पाण्डेय ने अपने यू-ट्यूब चैनल पर एक नया वीडियो डालते हुए बताया कि उम्र बढऩे के साथ ही लोगों में कब्ज की समस्या भी तेजी से बढ़ते जाते है और मलोत्सर्ग की क्रिया भी धीमा पड़ जाती है। प्रतिदिन कम से कम एक बार मल त्यागना जरूरी होता है लेकिन ज्यादातर लोग अनियमित रूप से मल त्यागते हैं और इस कारण उनके पेट में कब्ज बनना शुरू हो जाता है। कब्ज के कारण जी मिचलाना, उल्टी, पेट में दर्द और भारीपन की भी समस्या हो सकती है। उन्होंने बताया कि पर्याप्त पानी न पीना या भोजन में फाइबर शामिल न करने से कब्ज की समस्या हो सकती है। अत्यधिक मात्रा में डेयरी उत्पादों के सेवन से कब्ज होता है। शारीरिक कार्य न करने से भी यह समस्या हो सकती है। अधिक देर तक खाली पेट रहने और अस्वस्थ भोजन करने से कब्ज हो सकता है। पाचन तंत्र की तंत्रिकाओं एवं मांसपेशियों में कोई परेशानी होने पर कब्ज हो सकता है।

iimt haldwani

देखे वीडियो-https://www.youtube.com/watch?v=Oj59lyMPePM

इन 5 दवाइयों से कब्ज को करें दूर- डा. पाण्डेय

डा. एनसी पाण्डेय ने कहा कि 6 माह से लेकर पांच साल तक के छोटे बच्चों को कब्ज की समस्या है तो मैकम्यूर की तीन से चार खुराक खिला दें, बच्चा बिल्कुल ठीक को जायेगा। वही महिलाओं को हो रही कब्ज की समस्या के लिए एलोबिना 30 या 200 की दो-दो बूंदे तीन बार लगातार सात से 10 दिनों तक लेनी में ठीक हो जायेगी। प्यास ज्यादा लगना या फिर ठंडा पानी पीने का मन हो तो ब्रेनिया की दो-दो बूंदे तीन बार ले तो तुंरत आराम मिलेगा। चौथा अगर पेट में आंव या फिर जीभ में पोटिन एंटीगू्रट का उपयोग करें। इसका प्रयोग दो-दो बूंदे तीन बार सात से दस दिनों तक करें। अगर कोई भी दवाई काम नहीं कर रही है तो नेक्स वोमिका 30 या 200 प्रयोग दो-दो बूंदे तीन बार  लगातार सात से दस दिन तक करें। इससे कब्ज की समस्या दूर हो जायेंगाी।