PMS Group Venture haldwani

काठगोदाम शताब्दी एक्सप्रेस में बिक रही ‘मैं भी चौकीदार’ वाली चाय, ऐसे उठे रेलवे पर सवाल

86

नई दिल्ली-न्यूज टुडे नेटवर्क : शताब्दी में चाय के कप पर भाजपा की गरमा-गरम चर्चा हो रही है। रेलवे एक बार फिर आदर्श आचार संहिता के उल्लंघन के आरोपों में घिर गया जब यात्रियों ने कहा कि उन्हें जिन पेपर कपों में चाय दी गई उस पर ‘‘मैं भी चौकीदार’’ लिखा था। काठगोदाम शताब्दी एक्सप्रेस में यात्रा कर रहे एक यात्री द्वारा पेपर कप की तस्वीर के साथ किया गया ट्वीट वायरल होने पर रेलवे ने कहा कि उसने कप हटा लिए हैं और ठेकेदार को दंडित किया है।

Shree Guru Ratn Kendra haldwani

satabdi

इस कप पर क्या कहा चुनाव आयोग ने ?

चाय के कप पर नारे को कई लोग चुनावी आचार संहिता का उल्लंघन बता रहे हैं, लेकिन चुनाव आयोग का कहना है कि इस कप का किसी राजनीतिक पार्टी से कोई लेना देना नहीं है, क्योंकि ये संकल्प फाउंडेशन से जुड़ा हुआ है। इसलिए लिए इसे लेकर किसी राजनीतिक दल पर किसी तरह की कोई कार्रवाई नहीं होनी चाहिए।

nirvachan

ठेकेदार के खिलाफ होगी सख्त कार्रवाई

यात्री की शिकायत के बाद रेलवे ने तुरंत इस कप को हटा लिया और ठेकेदार के खिलाफ कार्रवाई जा रही है। रेलवे ने कहा कि इसके अलावा सुपरवाइजर पर भी कार्रवाई की जा रही है। बता दें कि चुनावी आचार संहिता लागू होने के बाद इस तरह के प्रचार को आचार संहिता का उल्लंघन माना जात है। जिस पर कड़ी कार्रवाई हो सकती है।

अनजाने में हुई गलती

ऐसा दावा किया गया कि इन कपों में दो बार चाय दी गई। कप पर विज्ञापन एनजीओ ‘संकल्प फाउंडेशन’ ने दिया था। कुछ दिन पहले रेलवे पर चुनाव आदर्श आचार संहिता का उल्लंघन करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की तस्वीरों वाली टिकटें जारी करने के आरोप लगे थे। बाद में रेलवे ने सफाई दी कि यह ‘‘अनजाने में हुई गलती’’ है।