पटना-मानवता हुई शर्मसार, आग से झुलसे युवक को अस्पताल ने कूड़े ढेर में फेंका

Slider

पटना-न्यूज टुडे नेटवर्क- बिहार में मानवता को शर्मसार करने वाली घटना सामने आयी। मामला हाजीपुर सदर अस्‍पताल का बताया जा रहा है। सूत्रों की माने तों अस्‍पताल के इमरजेंसी वार्ड में भर्ती एक मरीज को वॉर्ड ब्वॉय ने कचरे के ढ़ेर पर फेंक दिया। वही अब अस्‍पताल प्रबंधन ने घटना की जांच की बात कही है। जिसके बाद इस पर राजनीति गरम हो गई। बिहार विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष तेजस्‍वी यादव ने सुशासन पर सवाल खड़े किए हैं। ट्रवीट कर तेजस्वी यादव ने सुशासन को कोसा। सोशल मीडिया में तस्वीर वायरल हो गई। जिसके बाद युवक को इमरजेंसी में शिफ्ट किया गया। आग से झुलसे एक अज्ञात युवक को लालगंज रेफरल अस्पताल में भर्ती कराया गया। वहां से डॉक्टरों ने उसे हाजीपुर सदर अस्पताल रेफर कर दिया। बताया जा रहा है कि बुरी तरह जले मरीज को मरने के लिए कचरे में फेंका गया।

Slider

अस्पताल प्रबंधन पर हुई सवालों की बौछार

राहगीरों ने घायल युवक को ठंड में कचरे की ढ़ेर में तड़पते देख उसकी तस्‍वीर सोशल मीडिया पर डाल दी। तस्‍वीर देखते-देखते वायरल हो गई। इसके बाद होश में आए अस्पताल प्रबंधन ने आनन-फानन में मरीज को दोबारा इमरजेंसी वार्ड में शिफ्ट किया। वहीं हाजीपुर सदर अस्‍पताल के उपाधीक्षक डॉ. कामेश्‍वर मंडल के अनुसार मामले की जांच की जा रही है। दोषी के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। बताया जा रहा है कि वार्ड की सफाई के दौरान मरीज को धूप में बैठाया गया था, जहां से वह कचरे के ढ़ेर पर जाकर बेहोश हो गया। एक तरफ जांच की बात तो दूसरी तरफ घटना को लेकर जांच के पहले ही निष्‍कर्ष देने के कारण सवाल खड़े हो गए हैं। हालांकि अभी यह साफ नहीं हो पा रहा है कि अस्पताल ने युवक को कूड़े के ढ़ेर में फिकवाया या फिर वह धूप में बैठाने के दौरान गिर गया।

उत्तराखंड की बड़ी खबरें