HOLI SPECIAL: जमकर खेलें होली मगर रखें इन बातों का ख्‍याल, वरना…

होली रंगों और खुशियों का त्योहार है और यह त्योहार हमें एक-दूसरे को आपस में बांधने का संदेश (Message) देता है। लेकिन होली पर लापरवाही बरतने से आपके शरीर और स्वास्थ्य (Body & Health) पर बुरा असर पड़ सकता है। अगर आप कुछ सावधानियां रखेंगे तो आप रंगों के इस पर्व की खुशियों को दोगुना कर सकते हैं।
holi festivalहोली का त्योहार पारंपरिक तौर पर फूलों से रंग निकाल कर होली का आनंद उठाया जाता था। इन प्राकृतिक फूलों के रंगों में सुगंधता के साथ-साथ रोगों के उपचार की भी क्षमता होती थी। यह रंग हमारी त्वचा (Skin) और स्वास्थ्य के लिए भी अच्छे होते थे। गुलाल को त्वचा को कोमल बनाने वाले उसके गुणों के लिए चुना जाता था। लेकिन अब नुकसानदेह रंगों ने होली का स्‍वरूप पूरी तरह से बदल दिया है। आज के समय बाजार में केमिकल वाले रंग (Chemical Colours) उपलब्‍ध हैं जो हमारी त्वचा (Skin), आंखों (Eyes) और बालों (Hairs) को काफी नुकसान पहुंचाते हैं।

यह भी पढ़े…  होली 2020 – जानिए होलिका दहन और रंगोत्सव का शुभ मुहूर्त, होलाष्टक का महत्व

होली खेलने से पहले रखें यह ध्‍यान
होली के मौके पर शरीर को ढककर रखें और फुल स्लीव्स (Full Sleeves) के कपड़े पहने। होली खेलने से पहले अपने पूरे शरीर पर तेल (Oil) लगा लें। बालों पर तेल लगाना न भूलें। सरसों के तेल (Mustard Oil) की जगह नारियल का तेल (Coconut Oil) लगाना बेहतर विकल्प है।

रंग खेलने के बाद भी रखें सावधानी
रंग छुड़ाते समय ज्‍यादा साबुन (Soap) का इस्तेमाल न करें। इससे आपकी त्वचा संबंधी समस्याएं हाने का खतरा रहता है। रंग छुड़ाते समय मुंह और आंख बंद रखें। ध्यान रखें कि रंग का पानी कान में न जाए। अगर आपको जलन महसूस हो रही हो, धुंधलापन लग रहा हो या सांस लेने में दिक्कत हो रही हो तो तुरंत किसी डॅाक्‍टर को दिखाएं।                     (रिपोर्ट:- अनुज गंगवार)

उत्तराखंड की बड़ी खबरें