iimt haldwani

हल्द्वानी- तीन महीने से जेल में था ये शातिर, अब जमानत पर रिहा हुआ तो फिर शुरू कर दिया ये गंदा धंधा

1028

हल्द्वानी-न्यूज टुडे नेटवर्क-अपराधियों को आप कितना भी बदलने की कोशिश करो वह नहीं बदलता। हालांकि कई मामले इसके विपरित होते है लेकिन अधिकांश लोग सजा काटने के बाद भी नहीं बदलते है। कई अपराधी जेल में बैठकर ही योजना बनाते लगते है तो कई बाहन निकलकर इस ओर कदम न रखने की कसम खाते है। लेकिन हल्द्वानी में ठीक इसके उलट हुआ। तीन महीने पहले स्मैक के साथ गिरफ्तार किया गया युवक जब जमानत पर बाहर आया तो फिर से इसी धंधे शुरू करने चले गया। लेकिन एक बार फिर वह पुलिस के हाथ लग गया। फिर सलाखों के पीछे जा बैठा।

drishti haldwani

स्मैक के साथ पुलिस ने किया गिरफ्तार

बनभूलपुरा पुलिस ने जलाल शाह बाबा मजार के पास मो. वसीम पुत्र सिराज अहमद को गफूर बस्ती के पास से गिरफ्तार कर दिया। इस दौरान चेकिंग में उसके पास से पांच ग्राम स्मैक बरामद हुई। पूछताछ उसने अपना नाम मो. वसीम बताया। वसीम ने बताया कि वह बरेली, बहेड़ी से स्मैक खरीदकर हल्द्वानी में बेचता था। वह स्मैक की छोटी-छोटी पुडिय़ा बनाता था। पूछताछ में उसने बताया कि वह पहले भी पकड़ा जा चुका है तो पुलिस के होश उड़ गये। वसीम ने बताया कि इससे पहले वह अपने दोस्त अमन सिद्दीकी के साथ स्मैक की तस्करी में पकड़ा गया था। जिसके बाद वह जमानत पर छूटा तो दोबारा स्मैक बेचने लगा। उसके खिलाफ बनभूलपुरा थाने में पहले भी एफआईआर दर्ज है। साथ ही गैंगस्टर भी लगी है।