drishti haldwani

हल्द्वानी- जाने एग्जिट पोल के बाद हरीश रावत वोटिंग प्रोसेस से क्यूं हुए नाराज, जनता को दे डाली ये नसीहत

816

हल्द्वानी- न्यूज टुडे नेटवर्क: लोकसभा 2019 चुनाव के एग्जिट पोल के नतीजे 19 मई को जारी हो चुके है। जिसमें उत्तराखंड में कांग्रेस की सभी पांचो सीटे लड़खड़ाती नजर आ रही है। ऐसे में कांग्रेस पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव हरीश रावत ने एक बार फिर ईवीएम मशीन पर सवाल खड़े दिये है। इतना ही नहीं एग्जिट पोल के नतीजों के बाद कहीं न कहीं हरदा पूरे वोटिंग से खफा दिखाई दे रहे है। जिसपर उन्होंने जनता को मतदान मशीन से हो या नहीं इस बात पर चिंतन करने की नसीहत दे डाली है। उन्होंने कहा कि देश की जनता बदलाव चाहती थी और जिस तरह से एग्जिट पोल में एनडीए की बढ़त दिखाई दे रही है उसमें संदेह जैसी स्थिती बनी हुई है। ईवीएम पर जो सवाल पहले उठ रहे थे वो सवाल अब फिर से ताजा हो गए है।

iimt haldwani

Indira hirdeysh

साथ ही उन्होंने 23 मई को आने वाले नतीजो में एग्जिट पोल के नतीजें पूरी तरह गलत साबित होने की बात कही है। उन्होंने कहा कि देश के साथ ही उत्तराखंड की जनता ने भी परिवर्तन के लिए अपना मतदान किया है हम उत्तराखंड की सभी पांचों सीटों पर जीत दर्ज करेंगे और देश में कांग्रेस की सरकार बनेगी।

एग्जिट पोल पर नहीं विश्वास

वही नेता प्रतिपक्ष इंदिरा हृदयेश ने एग्जिट पोल के नतीजों पर विश्वास न करने की बात कहते हुए उत्तराखंड में कांग्रेस की तीन सीटों पर जीत देखी जाने की बात कही है। लेकिन एग्जिट पोल की माने तो एक ही सीट कांग्रेस के पाले में आती नजर आ रही है। कही तो उसके भी आसार बनते नहीं दिख रहे है। ऐसे में उन्होंने नतीजों के लिए 23 तारीख का इंतजार करने की बात कही है।