inspace haldwani
Home उत्तरप्रदेश खुशहाल परिवार दिवस: आशाओं ने घर-घर जाकर समझाया कैसे घर में आएगी...

खुशहाल परिवार दिवस: आशाओं ने घर-घर जाकर समझाया कैसे घर में आएगी खुशहाली

न्‍यूज टुडे नेटवर्क। जनमानस में  परिवार नियोजन के साधनों के बारे में  जानकारी देने के साथ समाज में  जागरूकता और स्वीकार्यता बढ़ाना जरूरी है । इसलिए  सरकार द्वारा इसके व्यापक प्रचार-प्रसार को लेकर एक अनूठी पहल के तहत अब हर माह की 21 तारीख को खुशहाल परिवार दिवस मनाने का निर्णय लिया गया है । गुरुवार को परिवार कल्याण के नोडल अधिकारी  डॉ. जे पी मौर्या ने बहेडी स्वास्थ्य केन्द्र पर खुशहाल परिवार दिवस का शुभारंभ किया।  करेली प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र पर  खुशहाल परिवार दिवस के तहत  एएनएम राजेश्वरी ने महिलाओं को परिवार नियोजन के बारे में विस्तार से जानकारी दी। आशा कार्यकर्ता मीना साहू ग्राम करेली में लक्षित महिलाओं के घर जाकर परिवार नियोजन की जानकारी दी।

डॉ. जेपी मौर्य बहेड़ी सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र  में खुशहाल परिवार दिवस का शुभारंभ करते हुए कहा कि  एक खुशहाल परिवार के लिये परिवार नियोजन बहुत ही आवश्यक हैं। उन्होंने बताया कि आशाएं खुशहाल परिवार दिवस को सफल बनाने के लिए इन लक्षित समूह पर कार्य कर रही हैं। जो पहली जनवरी 2020 के बाद प्रसव वाली वह महिलाएं जो उच्च जोखिम गर्भावस्था (एच.आर.पी.) के रूप में चिन्हित की गयीं थीं, नव विवाहित दम्पति (जिनका विवाह इस साल जनवरी 2020  के बाद हुआ है),वह योग्य दम्पति जिनके तीन या तीन से अधिक बच्चे हैं । खुशहाल परिवार दिवस के दिन आशा कार्यकर्ता ने गृह भ्रमण कर महिलाओं को परिवार नियोजन की जानकारी दी।

आशा कार्यकर्ता मीना साहू करेली स्थित वर्षा के घर खुशहाल परिवार दिवस की जानकारी देने पहुंची। मीना ने बताया कि वर्षा के 4 बच्चे हैं दो लड़का और दो लड़की और पति मजदूरी करता है। हाल में ही 2 जनवरी को उसके चौथा बच्चा हुआ है और उसके बाद बहुत कहने पर वर्षा ने पीपीआईयूसीडी लगवाई है लेकिन वह नसबंदी करवाने से इंकार कर रही है इसलिए वह आज उसको समझाने पहुंची । वर्षा ने बताया कि बहुत मुश्किल से परिवार का लालन पालन होता है और वह बहुत बीमार भी रहती है लेकिन उस के पति ऑपरेशन करवाने के लिए तैयार नहीं है | आशा बहन जी ने हमें समझाया है अब हम जल्दी ही नसबंदी करवाएंगे।

मीना साहू सर्वे के दौरान गर्भवती नीरज के घर गई। मीना ने नीरज को समझाया कि  दो लड़कियां और एक लड़का है और फिर  गर्भवती हो इसके बाद तुम्हें ऑपरेशन करवाना चाहिए ताकि एक खुशहाल परिवार बन सके। नीरज ने बताया कि उसकी शादी को 7 साल हुए हैं उसके पति मजदूरी करते हैं जीवन बहुत मुश्किल से चल रहा है लेकिन घर वाले नसबंदी कराने के लिए तैयार नहीं है अबकी चौथा बच्चा होगा उसके बाद जरूर नसबंदी करा लेंगे।

Related News

यूपी: 9534 पदों के लिए मांगे आवेदन, दारोगा भर्ती का नोटिफिकेशन जारी, देखिए विस्‍तार से

न्‍यूज टुडे नेटवर्क। उत्तर प्रदेश पुलिस में दारोगा बनने का इंतजार कर रहे युवाओं के लिए बड़ी खुशखबरी है। उत्तर प्रदेश की योगी सरकार...

बरेली: नकल पर नकेल, अब होंगे डिबार

न्‍यूज टुडे नेटवर्क, बरेली।  एलएलबी की परीक्षा में पकड़े गए नकलचियों पर सख्त कार्रवाई करते हुए विश्वविद्यालय ने अब कड़ा रुख अपनाया है। जिसके...

Bareilly-नौकरी से वीआरएस, समाजसेवा अनवरत जारी, जानिए मीना सोंधी का सफरनामा

न्‍यूज टुडे नेटवर्क, बरेली। आज के इस भागमभाग भरे जीवन में लोग पैसों के लिए भाग रहे हैं। उनके पास अपने परिवार के लिए...

पंचायत चुनावों की तैयारी: 28 फरवरी को वाराणसी में कार्यकर्ताओं संग मंथन करेंगे जेपी नड्डा

न्‍यूज टुडे नेटवर्क। भाजपा के राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष पंचायत चुनावों की तैयारियों को अंतिम रूप देने वाराणसी आ रहे हैं। नड्डा 28 फरवरी को वाराणसी...

बरेली: पुलिस को मिली बड़ी कामयाबी, कपड़ा व्यापारी निकला बाइक चोर गिरोह का मास्टरमाइंड

न्‍यूज टुडे नेटवर्क, बरेली। बरेली पुलिस को बड़ी कामयाबी हाथ लगी है। पुलिस ने बाइक चोरी करने वाले गिरोह का पर्दाफाश किया है। पुलिस...

जयंत चौधरी ने कहा- अगर सरकार पीछे हटने को तैयार नहीं तो किसान एक इंच भी पीछे हटने को तैयार नहीं

न्‍यूज टुडे नेटवर्क। राष्‍ट्रीय लोक दल के उपाध्‍यक्ष जयंत चौधरी ने गुरूवार को कहा कि केन्‍द्र की भाजपा सरकार लगातार किसानों का उत्‍पीड़न कर...