हल्द्वानी-जिसके लिए घरवालों से की बगावत उसने ही कर दिया ये हाल, इश्क, शादी फिर बर्बादी पढिय़े बेबस महिला की पूरी कहानी

Slider

हल्द्वानी-कहते है प्यार अंधा होता है। जिसके लिए अपने माता-पिता को छोड़ दिया आज वहीं जान का दुश्मन बना बैठा है। जिसे इश्क की नादानी कहे या और कुछ। हाथ टूटने के बाद महिला पुलिस के शरण में पहुंची और पति के खिलाफ कार्यवाही की मांग की। महिला के दो बच्चे भी है। वह जैसे-तैसे अपने बच्चों को पाल रही है। अब उसे पछतावा हो रहा है कि उसका फैसला गलत था। उसके मां-बाप ठीक थे। मामला रामपुर रोड की रहने वाली एक महिला का है।

women Heand Facuter

Slider

दस साल पहले की लव मैरिज

महिला ने पुलिस से पति की शिकायत करते हुए कहा कि वह कमलुवागांजा में रहती थी। करीब दस साल पहले उसकी आंखे रामपुर रोड निवासी एक युवक से दो-चार हुई। धीरे-धीरे दोनों करीब आये और तीन साल तक उनक प्रेम-प्रसंग चला। इसके बाद सात साल पहले दोनों ने विवाह कर दिया। इस शादी से उसके घरवाले खुश नहीं थे लेकिन युवती ने घरवालों की विरूद्ध जाकर युवक के शादी की। इसके बाद उनके दो बच्चे हो गये। इधर पति धीरे-धीरे नशा करने लगा। आये दिन दोस्तों को घर उससे अभद्र व्यवहार करने लगा। फिर मारने पीटने लगा। उसके बच्चों के लिए खाने के लाने पड़ गये।

नशेड़ी पति ने तोड़ा महिला का हाथ

रिश्तेदारों से मदद मांगकर वह अपने बच्चों को पाल रही है। विगत दिवस पति नशे में घर आया ओर डंडे से उसकी बेरहमी से पिटाई कर दी। मारपीट में महिला का हाथ टूट गया। इसके बाद वह पति के खिलाफ बगावत शुरू कर कोतवाली पहुंची। पूरी घटना पुलिस को बताई। महिला की शिकायत के बाद पुलिस टीम उसके घर भेजी गई लेकिन उसका पति घर पर नहीं मिला। बाद में मामला मंगलपड़ाव चौकी को जांच के लिए सौंप दिया गया।

उत्तराखंड की बड़ी खबरें