हल्द्वानी-विटामिन डी की कमी से पनपते है ऐसे रोग, तो आजमाये डा. एनसी पाण्डेय के ये टिप्स

Slider

हल्द्वानी-साहस हौम्योपैथिक कि चिकित्सक डा. एनसी पाण्डेय इस बार अपने यू-ट्यूब चैनल पर एक नया वीडियो डालते हुए विटामिन डी के बारे में जानकारी दी। उन्होंने बताया कि शरीर के लिए विभिन्न विटामिनों की जरूरत पड़ती है, इनमें से एक है विटामिन डी। विटामिन डी वसा घुलनशील प्रो .हार्मोन का एक समूह होता है। त्वचा जब धूप के संपर्क में आती है तो शरीर में विटामिन-डी के निर्माण की प्रक्रिया शुरू होती है या यह कहे कि धूप विटामिन डी का एक बहुत अच्छा स्रोत है। इसके अलावा यह मछलियों में भी पाया जाता है।

https://www.youtube.com/watch?v=vt4B1jC4INE

Slider
Attachments area

Preview YouTube video Deficiency of Vitamin -D, विटामिन-डी की कमी का होम्योपैथिक उपचार | Dr. N. C. Pandey, Sahas Homeo

डा. पाण्डेय ने बताया कि विटामिन डी की मदद से हड्डियों को मजबूती बनती है। इसके अभाव में हड्डी कमजोर होती है वह टूट भी सकती है। छोटे बच्चों में अगर यह स्थिति होती है तो इसे रिकेट्स कहते हैं अथवा बड़े लोगों में इस स्थिति को ऑस्टियोपोरोसिस कहते हैं। इससे से शरीर में होने वाले दर्द में भी आराम मिलता है तथा विटामिन डी कैंसर क्षय रोग जैसे रोगों से भी बचाता है। आजकल बहुत सारे लोग शरीर में विटामिन डी की कमी से ग्रस्त है ।

डा. पाण्डेय ने बताया कि ज्यादा थकान लगना, डिप्रेशन की समस्या रहना, मांसपेशियों में खिंचाव होना, जोड़ों में दर्द, हड्डी का दर्द होना, कमर दर्द व पीठ में दर्द होना, विटामिन डी की कमी से महिलाओं में बाल झडऩे की समस्या भी हो सकती है।

उत्तराखंड की बड़ी खबरें