iimt haldwani

हल्द्वानी-लेबनान में होगी विश्वस्तरीय साइकिलिंग चैंपियनशिप, हल्द्वानी का लाल भी करेगा प्रतिभाग

156

हल्द्वानी-लेबनान के शहर केफेरडेबियन शहर में आगामी सितम्बर माह में होने वाले एशियाई माउंटेन बाइक चैंपियनशिप में भाग लेने के लिए सात प्रतिभागियों का चयन होने के बाद उनकी ट्रेनिंग के लिए बलौट रिसोर्ट में विगत 25 जून से 20 जुलाई तक कैंप लगाया गया। भारत में यह पहला ऐसा कैंप है जिसमें प्रतिभागियों के लिए विश्वस्तरीय साइकिलिंग ट्रेक बनाकर प्रैक्टिस कराई गई। रविवार को खिलाडिय़ों का दल लेबनान को रवाना होगा।

amarpali haldwani

Lebanese world class cycling championship

इस दल के साथ साइकिलिंग फेडरेशन के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष एवं उत्तराखंड साइकिलिंग फेडरेशन के अध्यक्ष विमल चौधरी भी लेबनान जायेंगे। विमल हल्द्वानी के रहने वाले है। दल में साइकिलिस्ट उत्तराखंड से रजत पांडेय, हिमाचल से शिवेन और देवेन्द्र ठाकुर, कर्णाटक से वैशक, एडोनिस , इंडियान आर्मी के कमलेश राणा एवं बैंगलोर से किरण राजू है। साइकिलिंग कैंप में टे्रनिंग देने के लिए गोरखा रेजिमेंट के शिशिर कार्की के कोच नियुक्त किया गया तथा विकास किरौला को साइकिलिंग ट्रेक का चयन करके बनाने की जिम्मेदारी दी गई थी।

साइकिलिंग रेस ट्रैक में कराया अभ्यास

भारतीय साइकिलिस्ट आज तक सिर्फ रोड में ही प्रैक्टिस करते आये है। यह पहली बार हुआ है। जब खिलाडिय़ों को विदेशों की तरह के साइकिलिंग रेस टे्रक में अभ्यास कराया गया। इस ट्रेक में कई तरह के जंपिंग रैंप एवं बैलेंसिंग जोन बनाई गई हैं जो कि इंटरनेशनल साइकिल ट्रेक्स में भी बनाये जाते है। साइकिलिंग फेडरेशन के राष्ट्रीय जाइंट सेक्रेटरी प्रभात पांडेय ने बताया की बलौट का क्षेत्र साइकिलिंग फेडरेशन द्वारा बहुत पसंद किया गया है।

आगामी सितम्बर माह में साइकिलिंग स्टेट चैंपियनशिप भी यहां पर करने का विचार किया जा रहा है। इस कैंप में बलौट और सूर्यजाला क्षेत्र के सरपंच शक्ति सिंह सूर्या, ग्राम प्रधान नारायण सूर्या एवं ग्रामीणों का काफी सहयोग रहा। इस दौरान बलौट रिसोर्ट में देवेन्द्र दिगारी, विजय पाठक, जगदीप बिष्ट, हेमंत अधिकारी आदि मौजूद थे।