PMS Group Venture haldwani

हल्द्वानी-दो महिलाएं भी हो चुकी है मर्डर के आरोपी गुप्ता बंधुओं के जुल्मों का शिकार, पढिय़े जुल्मों की पूरी कहानी

5035

Haldwani Crime news-आज सिंधी चौराहे पर हुए गोलीकांड के बाद आरोपी गुप्ता बंधुओं की शहर में पूरी पोल खुल गई है। लोग तरह-तरह की चर्चाएं कर रहे है। वहीं पुलिस पर भी कई सवाल उठ रहे है। जिस तरह दिन दहाड़े प्रॉपटी डीलर भूपी पाण्डेय की गोली मारकर हत्या कर दी गई जिससे आम जन भयभीत है। लंबे समय से इन दोनों के बीच प्रॉपटी को लेकर विवाद चल रहा है। बताया जा रहा है कि भूपी पाण्डेय ने दोनों के खिलाफ मुकदमा किया था लेकिन इन सब के बावजूद पुलिस की ढिलाई भी सामने आयी।

Shree Guru Ratn Kendra haldwani

bandu Gupta

शिवसेना के प्रदेश उपाध्यक्ष रूपेद्र नागर बताया कि गुप्ता बंधुओं का शिवसेना से कोई लेना-देना नहीं है। पार्टी इन्हे कब का बाहर कर चुकी है लेकिन इसके बावजूद इन्होंने पार्टी के झंडों और पार्टी के नाम का इस्तेमाल कर लोगों का उत्पीडऩ किया। नागर ने बताया कि इससे पहले महिला सौम्या दुआं और गौरी मिश्रा इन दोनों के उत्पीडऩ का शिकार हो चुकी है। उन्होंने बताया कि सौम्या दुआं ने मकान बेचना था जिसमें बिचौलियां बनकर गुप्ता बंधुओं ने गौरी मिश्रा को मकान दिलाने की बात की। बाद में न गौरी मिश्रा को मकान मिला न सौम्या दुआं को रुपये जिसके बाद जमकर विवाद हुआ। सौम्या दुआं और गौरी मिश्रा दोनों ने इनके खिलाफ मुकदमा कराया।

Rupenda nagar
नागर ने बताया कि इसके बाद मृतक भूपी पाण्डेय के साथ भी प्रॉपटी को लेकर यही हाल रहा। जिसके बाद तीनों ने एक संयुक्त पत्र में गुप्ता बंधुओं के खिलाफ अपने उत्पीडऩ की पूरी कहानी लिखी। इसे नागर ने प्रदेश अध्यक्ष गौरव कुमार परबिंदा को भेजा। जिसके बाद उन्होंने केन्द्र तक की शिकायत की। तत्काल मामले पर संज्ञान लेते हुए गुप्ता बंधुओ को शिवा सेना से बाहर का रास्ता दिखा दिया गया लेकिन इसके बावजूद वह शिवसेना और पार्टी के झंडों का इस्तेमाल करते रहे। दोनों भाइयों ने जमीन, मकान और दुकान दिलाने के नाम में कई लोगों का उत्पीडऩ किया। कई लोगों के रुपये हडक़प लिये। आज खुलेआम हत्याकांड के बाद लोगों में भय का माहौल है। अगर पुलिस ने समय पर कार्रवाई की होती तो इतनी बड़ी वारदात नहीं होती।