drishti haldwani

हल्द्वानी- (स्मैक तस्कर की गजब कहानी) नशे के कारोबार में गया था जेल, रिहाई के पैसे अदा करने को फिर खेलना पड़ा ये गंदा खेल

446

हल्द्वानी- शहर में नशे का कारोबार कम होने का नाम नहीं ले रहा है। नशे के कारोबारियों की लगातार गिरफ्तारी हो रही है। इससे पहले भी कई नशे के सौदागरों को पुलिस हावालात की हवा खिला चुकी है। हवालात की हवा खाने के बाद बाहर आने में जो खर्चा लगता है उसे नशे के कारोबारी चुकाने में असमर्थ रह जाते है। वह फिर अपराध की ओर कदम रख रहे है ऐसा ही एक मामला आज सामने आया। शनिवाकर को पुलिस ने बनभूलपुरा रेलवे कॉसिंग के पास 4 ग्राम स्मैक के साथ मोहम्मद अजीम पुत्र मोहम्मद इकबाल निवासी नमरा मस्जिद के पास गिरफ्तार किया। इस दौरान पूछताछ में उसने जो बताया जनवरी 2019 में 70 ग्राम स्मैके साथ उसे और उसके भाई समेत तीन लोगों को पुलिस ने गिरफ्तार किया था। जिसके बाद उनपर गैस्टर का एक्ट लगा था। जैसे-तैसे वह जमानत से बाहर आ सकें।

iimt haldwani

बहेड़ी से लाता था स्मैक खरीदकर

जेल से बाहर आने में बहुत सारा खर्च आया। जिसे पूरा करने के लिए उसने एक बार फिर स्मैक के कारोबार की ओर कदम रखा। जिससे उसका खर्चा भी पूरा हो जाय। लेकिन इससे पहले पुलिस ने उसे दोबारा पकड़ लिया। अजीम ने बताया कि वह बहेड़ी रोडवेज स्टेशन से सस्ते दामों पर स्मैक खरीदकर लाता था। वह बहेड़ी से सिंकू नाम के युवक से स्मैक खरीदता है। जिसके बाद वह बनभूलपुरा में लाकर महंगे दामों पर बेचता था लेकिन वह फिर पुलिस के हत्थे चढ़ गया। इस दौरान युवक को पकडऩे वाली टीम में दिनेश नाथ महंत थानाध्यक्ष बनभूलपुरा, उप निरीक्षक धर्म सिंह, कांस्टेबल रूप बसंत राणा शामिल थे।