iimt haldwani

हल्द्वानी- यूपी के ये शहर बन रहे देवभूमि की बर्बादी का कारण, फिर इस कारोबार में लिप्त तीन धरे

248

उत्तरप्रदेश के कई इलाकों से लगातार बड़ रही स्मैक व अन्य जानलेवा नशे की सप्लाई से नैनीताल जिले के कई इलाके प्रभावित हो रहे है। चंद पैसो के लिए ये तस्कर नौजवानों को निरंतर मौत की ओर ढकेलने का कार्य कर रहे है। पुलिस द्वारा लगातार की जा रही इन तस्करों के खिलाफ कार्यवाई भी इनके मनसूबें कमजोर कर पाने में असमर्थ है। आलम यह है कि धीरे-धीरे ये तस्कर उत्तराखंड के नौजवानों के खून में नशे का रंग घोल रहे है। हल्द्वानी पुलिस भी इन तस्करों के नेटवर्क को कमजोर करने के लिए हर मुमकिम प्रयास कर रही है। लेकिन इन तस्करों पर लगाम लगा पाना पुलिस के लिए चुनौती बनता जा रहा है।

amarpali haldwani

देर रात पुलिस ने मुखानी थाना क्षेत्र के लामाचौड़ एमआईटी कॉलेज के पास से तीन स्मैक तस्करों को 10.5 ग्राम स्मैक के साथ गिरफ्तार किया है। पुलिस जानकारी मुताबिक अचनाक पुलिस को चैंकिग करते देख तीनों बचने के प्रयास से भागने लगे। जिनको किसी तरह पकड़ कर पुलिस ने तलाशी ली तो इनके पास से स्मैक की पुड़िया बरामद हुई। वही पूछताछ में आरोपियों ने पुलिस को बताया कि तीनों उत्तर प्रदेश के बहेड़ी, बरेली, किच्छा आदी स्थानों से स्मैक लाकर यहां बेचने का काम करते थे।

हल्द्वानी और बरेली के है तस्कर

पुलिस जानकारी मुताबिक चैकिंग के दौरान सौरभ गुप्ता (30) पुत्र सुखपाल गुप्ता निवासी राजपुरा गली नबंर-1 थाना हल्द्वानी को 3 ग्राम स्मैक, अतुल बिष्ट (22) पुत्र शेर सिंह बिष्ट निवासी घुनी नबंर-2 कठघरिया थाना मुखानी को 3.4 ग्राम स्मैक के साथ शफी फार्म लामा चौड़ से गिरफ्तार किया गया। वही मो. इमरान पुत्र मो. बली खां निवासी कल्यानपुर थाना शीशगढ़ जिला बरेली को 4.1 ग्राम स्मैक के साथ एम.आई.टी लामा चौड़ के पास से गिरफ्तार किया गया है। वही पुलिस ने तीनों के खिलाफ एनडीपीएस एक्ट के तहत कार्रवाई कर जेल भेज दिया है।