PMS Group Venture haldwani

हल्द्वानी-गरीब और असहायों के मसीहा बने डीआईजी, जनता ने ऐसे किया सलाम

191

हल्द्वानी-कहते है जिसका कोई नहीं होता उसका भगवान होता है। ऊपर वाला गरीबों की मदद को किसी न किसी को मददगार बनाकर भेजता है। आज तक आपने पुलिस के कई चेहरे देखे होंगे लेकिन कभी ये नहीं देखा होगा कि वह ठंड से बचाने के लिए लोगों को रजाईयां बांट रहे है। खबर थोड़ी अनोखी है लेकिन 100 प्रतिशत सत्य है। इसमें न किसी तरह की राजनीति शामिल है, न ही कोई स्वास्थ भावना। बस मिसाल है तो मानवता की। इसकी शुरूआत कुमाऊं रेंज के डीआईजी जगत राम जोशी ने आज हल्द्वानी में की। बढ़ती ठंड में खुले आसमान के नीचे रहने वाले गरीबों ओर दिव्यांगों ने राहत की सांस ली। रजाई लेते समय डीआईजी का धन्यावाद भी किया। आज डीआईजी जगत राम जोशी ने समाज में पुलिस के प्रति रखी लोगों की सोच को बदल दिया। उनके इस कदम की लोगों ने जमकर तारीफ की।

कुमाऊं रेंज के डीआईजी जगत राम जोशी द्वारा हल्द्वानी के स्टेडियम में गरीब, असहाय लोगों को नि:शुल्क वस्त्र रजाईयां बांटी। ठंड के मौसम में रजाई पाकर गरीबों के चेहरे खिल उठे। इससे पहले पुलिस ने गरीब एवं असहायों व जरूरतमंद लोगों को चिन्हित कर करीब 700 से अधिक लोगों को टोकन दिया गया था। जिसके बाद उन्हें आज हल्द्वानी स्टेडियम में आयोजित शिविर में आमंन्त्रण किया गया। कार्यक्रम में बकायदा पुलिस ने गरीब व असहायों लोगों के लिए जलपान की व्यवस्था भी की।

Shree Guru Ratn Kendra haldwani

डीआईजी कुमाऊं जगत राम जोशी ने बताया कि इस प्रकार की पहल से गरीब व असहायों लोगों का पुलिस पर और अधिक विश्वास व सहयोग की अपेक्षा की भावना उत्पन्न होगी तथा व नि:संकोच अपने समस्यों को पुलिस के समक्ष रख सकेंगे। उन्होंने कहा कि इस माह के अन्त तक पुलिस द्वारा दिव्यांग लोगों को उनके आवश्यकता अनुसार सहायक सामाग्री उपलब्ध कराया जायेगा एवं गरीब तथा असहायों लोगों के लिये एक नि:शुल्क मेडिकल शिविर का आयोजन किया जायेगा। जिसमें उनको भी उनकी समस्या संबन्धी सहायक सामाग्री उपलब्ध कराया जायेगा।

इस दौरान शिविर में मौजूद लोगों ने डीआईजी की इस पहल की जमकर सराहना हुई। कुमाऊं में यह पहली सकारात्मक पहल गरीबों एवं असहायों लोगों के लिए गई है। इस मौक पर शिविर में रचिता जुयाल पुलिस अधीक्षक अपराध/यातायात नैनीताल, अमित श्रीवास्तव अपर पुलिस अधीक्षक हल्द्वानी, दिनेश ढौढियाल सीओ हल्द्वानी, कोतवाल विक्रम सिंह राठौर, लालकुआं कोतवाल योगेश उपध्याय समेत कई पुलिसकर्मी मौजूद थे।