हल्द्वानी- सेंट लॉरेंस के टीचर मनोज जोशी के इन टिप्स से Maths में लाये 100% अंक, पेपर के वक्त ये बातें रखें ध्यान

CBSE Maths Board Exam 2020, सेंट्रल बोर्ड ऑफ सेकंडरी एजुकेशन (CBSE) की बोर्ड परीक्षा की तिथि जारी होते ही विद्यार्थियों ने अपनी तैयारी शुरु कर दी है। ऐसे में परीक्षा में अच्छा स्कोर पाने के लिए सही ढंक से तैयारी करना बेहद जरुरी है। आज अपनी खबर के माध्यम से हम विद्यार्थियों को 2020 बोर्ड में होने वाले मैथ्स एग्जाम की तैयारी कैसे करें इसके कुछ महत्वपूर्ण टिप्स देने जा रहे है।

आपको बता दें कि 12वीं की मैथ्स परीक्षा के लिए इस साल सीबीएसई ने नया एग्जाम पैटर्न पेश किया है। इस पैटर्न के मुताबिक, 20 नंबर प्रैक्टिकल प्रॉजेक्टस वर्क के होंगे जबकि रिटन एग्जाम 100 के बजाए 80 नंबर का होगा। नए एग्जाम पैटर्न के हिसाब से पेपर 3 घंटे का होगा। पेपर में 36 सवाल होंगे जो कि चार सेक्शन A,B,C,D में डिवाइड होंगे।

maths 2020 Board exam Preparation tips

यह भी पढे़👉 देहरादून- उत्तराखंड अधीनस्थ सेवा चयन आयोग ने 121 सिविल इंजीनियर की निकली भर्ती, ये है आवेदन की अंतिम तिथि

यह भी पढे़👉 नई दिल्ली- डाक विभाग ने इन पदों पर निकाली 14 भर्ती, आवेदक जल्द करें आवेदन

बोर्ड परीक्षा में कैसे तैयारी करके छात्र अच्छे अंक ला सकते है इसके लिए सेंट लॉरेंस सीनियर सेकेंडरी स्कूल के मैथ्स टीचर मनोज जोशी ने हमारे साथ कुछ महत्वपूर्म टिप्स साझा किये है। शिक्षक मनोज की माने तो मैथ्स जैसे विषय में याद करने से ज्यादा प्रश्नों को हल कैसे किया जाए इसका प्रयास करना बेहद जरुरी है।

एग्जाम तैयारी के लिए महत्वपूर्ण टिप्स

-सेंट लॉरेंस स्कूल के मैथ्स टीचर मनोज जोशी ने छात्रों को दिये टिप्स मे कहा है कि NCERT एवं NCERT Exemplar Book का अधिक से अधिक बार अध्ययन करना छात्रों के लिए फायदेमंद साबित होगा। किताब में दिये गए सभी सवालों की बार-बार प्रैक्टिस करें। चैप्टर के बीच या चैप्टर के अंत में दिये गए बॉक्स में सवालों की ठीक ढंग से प्रैक्टिस करें, क्यूं कि NCERT Exempler Book का पैर्टन बोर्ड पेपर से मिलता है। इसलिए इन किताबों से पढ़कर आप परीक्षा में अच्छे अंको की प्राप्ती कर सकते है।

-पुराने बोर्ड पेपर व सैंपल पेपर को 2:30 घंटे में सॉल्व करने की प्रैक्टिस करें। ऐसा इन पेपरों को बार-बार हल करने पर ही संभंव हो सकेगा। ऐसे में तीन घंटे के पेपर को 2:30 घंटे में करने के बाद विद्यार्थी के पास आधे घंटे का समय बच जाएगा, जिसमें छात्र छूटे हुए प्रश्न या हल किये हुए प्रश्नों को पुनह चैक कर सकेंगे। इसमें प्रश्न गलत होने की संभावना कम हो जाती है।

Chemistry Board exam preparation

-उन टॉपिक्स या कॉन्सेप्ट्स पर फोकस करना बेहद जरूरी है जिसमें आप खुद को कमजोर महसूस कर रहे हैं। उन टॉपिक्स को पढ़ें जो आपके हिसाब से कम इंट्रेस्टिंग हैं और फिर उसे फॉलो करें जिसमें आपकी रुचि है।

-शिक्षक मनोज की माने तो एग्जांम के वक्त सवाल को समझना बहुत जरूरी है। कई बार सवालों के जवाब सवालों में ही छिपे होते हैं। यही नहीं, कोशिश करें कि आसान सवालों को पहले ही हल कर लें। इससे आपका मोराल बूस्ट होगा और आपको कठिन सवालों के लिए ज्याशदा समय मिल जाएगा। प्रश्न पत्र पढने के लिए दिये गए समय का पूर्ण उपयोग करें। सभी सवालों को अच्छे से पढ़े और सवालों को हल करने की स्ट्रैटिजी तैयार करें।

10वीं के लिए महत्वपूर्ण व स्कोरिंग चैप्टर

10वीं कक्षा के छात्र कंसट्रक्शन, स्टैटिस्टिक्स , रीयल नंबर, थ्योरम ऑफ रिलेटेड चैप्टर, कोऑर्डिनेट ज्योमेट्री, एप्लीकेशन ऑफ ट्रिग्नोमेट्री, एरिया रिलेटेड टू सर्कल, प्रोबेबिलिटी जैसे चैप्टरों को अच्छे से पढ़कर इनके नुमैरिकल्स की प्रैक्टिस करके एग्जाम में अच्छा स्कोर कर सकते है।

12वीं के लिए महत्वपूर्ण व स्कोरिंग चैप्टर

12वीं कक्षा के छात्र मैथ्स बोर्ड परीक्षा में मैक्ट्रिस डिटरमिनेट, कंटीन्यूटी एंड डिफरेंटएबिलिटी, एप्लिकेशन ऑफ डेरिवेशन, वेक्टर एलजेब्रा, लाइनर प्रोग्रामिंग, जैसे विषयों पर अच्छा स्कोर करने के लिए विशेष ध्यान दें।

किस सेक्शन में होंगे कितने सवाल

सेक्शेन ए 20 सवालों का होगा और सभी के 1-1 नंबर होंगे। सेक्शबन बी 6 सवालों का होगा और सभी के 2 नंबर होंगे। वहीं, सेक्शान सी भी 6 सवालों का होगा और सभी के 4 नंबर होंगे जबकि सेक्श न डी 4 सवालों का होगा और सभी 6 नंबर होंगे।

(कोरोना वायरस)उत्तराखंड के पहले ट्रेनी IFS अफसर जिन्होंने मौत को मात दी, देखिये पूरी कहानी