drishti haldwani

हल्द्वानी- इंडियन ऑयल के अफसर को हो गया लड़की से इश्क, एक कॉल में साहब का हुआ ये हाल

360

हल्द्वानी- न्यूज टुडे नेटवर्क: सोशल मीडिया का सहारा लेकर लाखों की ठगी करने वाले गिरोह का पुलिस ने पर्दाफाश किया है। गिरोह के पांच सदस्यों को पुलिस ने दिल्ली के तुगलकाबाद से गिरफ्तार किया है। अधिक जानकारी देते हुए एसपी सिटी अमित श्रीवास्तव ने बताया कि हल्द्वानी के शीशमहल इलाके में रहने वाले एक इंजिनीयर की दोस्ती फेसबुक के माध्यम से कुछ वक्त पहले एक युवती से हुई। कई दिनों तक बाते करने के बाद दोनो के बीच प्रेमप्रसंग शुरू हो गया। इंजिनीयर का आरोप है कि कुछ दिन पूर्व युवती ने दिल्ली हवाई अड्डे में कस्टम अधिकारियों द्वारा उसको पकड़ने का जाल बुना।

iimt haldwani

इतना ही नहीं अपनी बात सच साबित करने के लिए युवती ने जालसाजी कर एक साथी को कस्टम ऑफिसर बना कर इंजिनीयर की बात भी कराई। जिसके बाद इंजिनीयर ने युवती की बातों में आकर 6 लाख 11 हजार 500 की रकम उसकेखाते में डलवा दी। वही काफी समय बीत जाने के बाद धोकाधड़ी का शक होने पर उसने मामले की जानकारी काठगोदाम चौकी पुलिस को दी। जिसपर कार्यवाई करते हुए पुलिस ने एक आरोपी को पहले ही गिरफ्तार कर लिया था। जबकि गिरोह के पांच आरोपियों दिल्ली से गिरफ्तार किया है। मामले में पुलिस कार्यवाई जारी है।
यह भी पढ़े… नई दिल्ली- सनी लियोनी की तस्वीरों से सगा भाई करता था छेड़छाड़, इस फिल्म में हो रहा है खुलासा

महिला की जांच जारी

पुलिस जानकारी के अनुसार इंजीनियर ने जनवरी महीने में एक युवती द्वारा फोन कर 6 लाख 11 हजार 500 की धोखाधड़ी करने की तहरीर पुलिस को सौपी थी। जिसके बाद से पुलिस ने मामले की जांच शुरू करदी थी। पुलिस जानकारी मुताबिक शिकायतकर्ता इंडियन ऑयल कंपनी में इंजिनीयर है। जिसे कुछ समय पहले फेसबुक पर एक युवती से इश्क हो गया था। बात यहां तक बड़ गई की दोनो ने एक दूसरे से अपने फोन नंबर भी बदली कर लिये। काफी समय तक फोन पर बातों का सिलसिला चला। एक दिन अचानक युवती का इंजीनियर को फोन आया । उसने खुद के दिल्ली एयरपोर्ट के कस्टम विभाग में फसे होने की जानकारी उसे दी। इतना ही नहीं कस्टम विभाग द्वारा उसे छोड़े जाने के लिए पैसो की डिमांड भी की।

यह भी पढ़े… हल्द्वानी-उत्तराखंड में यहां खुला पहला कार्टून इन रेस्टोंरेंट, बच्चों को ऐसे करेगा आकर्षित

साथी को कस्टम का अफसर बना कराई बात

फोन पर युवती ने अपने साथी को कस्टम विभाग का अफसर बनाकर इंजीनियर की बात भी कराई। युवती को परेशान देख उसकी बातों में आकर गौरव ने कई बारी में उसके खातें में 6 लाख 11 हजार की रकम भेज दी। काफी समय बीत जाने पर जब युवती से कोई सपंर्क नहीं हुआ तो, इंजिनीयर को धोखाधड़ी होने का शक हुआ। जिसकी शिकायत उसने पुलिस से की। जिसपर कार्रवाई करते हुए पुलिस ने पांच आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। मामले में जानकारी देते हुए एसपी सिटी अमित श्रीवास्तव ने बताया कि महिला की जांच पुलिस द्वारा की जा रही है। इधर पकड़े गए गिरोह के अन्य सदस्यों की तलाश जारी है। आरोपी दिल्ली के रहने वाले है। पुलिस ने इनके पास से 43 एटीएम 27 पासबुक 21 सिम और 16 मोबाइल बरामद किए है।