हल्द्वानी- सतपाल महाराज पर दर्ज हो गैर इरादतन हत्या का मुकदमा, पढ़े किसने दी तहरीर

Slider

उत्तराखंड के पर्यटक मंत्री सतपाल महाराज अपने परिवार और कर्मचारियों के सहित कोरोना पॉजिटिव पायें गए। पहले सतपाल महाराज की धर्मपत्नी और पूर्व मंत्री अमृता रावत कोरोना संक्रमित मिली, बाद में सतपाल महाराज समेत 22 लोग संक्रमित पायें गए। कैबिनेट मंत्री को कोरोना होने की खबर फैलते ही सूबे के मुखिया त्रिवेन्द्र सिंह रावत स्वयं होम क्वारंटाइन हो गए, जिसके बाद तीन दिन पहले हुई बैठक जिसमें पर्यटक शामिल थे, उसमें मौजूद तमाम मंत्रियों और अधिकारियों की जांच और क्वारंटाइन की बात सामने आई।

सतपाल महाराज के खिलाफ दर्ज हो मुकदमा

वही खुद पर्यटन मंत्री का परिवार कोरोना संक्रमित मिलने से प्रदेश की जनता की सुरक्षा पर भी सवाल उठने लगे, लोगो ने तो मंत्रियों के क्वारंटाइन होने पर प्रदेश की जनता को आत्म निर्भर का कस दिया है। कैबिनेट मंत्री की इस लापरवाही से प्रदेश वासियों की सुरक्षा पर सीधा असर पड़ा। इन सब के बीच अब सतपाल महाराज के खिलाफ कोविड-19 संक्रमण से संबंधित जानकारी छिपाने को लेकर मुकदमा दर्ज करने की मांग उठी है।

Slider

satpal maharaj Minister Of Tourism uttarakhand

इनता ही नहीं पर्यटन मंत्री पर प्रदेशवासियों की जान से खिलवाड़ करने का आरोप भी लगा है। नैनीताल निवासी रिपब्लिकन पार्टी ऑफ इंडिया के प्रदेश अध्यक्ष गोपाल वनवासी ने कहा कि मंत्री के खिलाफ गैर इरादतन हत्या का मुकदमा दर्ज करने के लिए उत्तराखंड के पुलिस महानिदेशक को पत्र भेजकर सतपाल महाराज के खिलाफ कोविड-19 की लागू एडवाइजरी के तमाम नियमों का उल्लघंन करने और देवभूमी की जनता को नुकसान पहुंचाने के संबंध में उनके खिलाफ मुकदमा दर्ज कर कार्यवाई की मांग की है।

उत्तराखंड की बड़ी खबरें