iimt haldwani

हल्द्वानी- सरोवर नगरी में पर्यटकों की दिक्कतों को ऐसे बड़ा रहें थे ये अधिकरी, कुमाऊं कमिश्नर ने लिया ये ऐक्शन

66

हल्द्वानी- न्यूज टुडे नेटवर्क: सरोवर नगरी और हल्द्वानी में लगातार बिगड़ती जा रही पानी की स्थिती संभलने का नाम नहीं ले रही है। इस बड़ी समस्या को काबू कर पाना जल संस्थान के अधिकारियों के लिए कड़ी चुनौती बन गया है। गर्मी और पर्यटन सीजन शुरू होने के बाद भी नैनीताल के अधिकांश इलाकों में पेयजल आपूर्ति बाधित है। जिसकी वजह से नैनीताल आने वाले पर्यटकों को भारी दिक्कतें झेलनी पड़ सकती है। वही बात हल्द्वानी की करें तो यहां भी आये दिन किसी न किसी क्षेत्र के लोग जल संस्थान के दफ्तर के बाहर पहुंचकर पानी की पूर्ती न होने के चलते प्रदर्शन करते नजर आरहे है। ऐसे में जल संस्थान विभाग के कर्मचारियों की कार्यप्रणाली सवालों के घेरे में आ गई है। जिस पर ऐक्शन लेते हुए कुमाऊं मण्डल राजीव रौतेला ने ऐसे कर्मचारियों के खिलाफ बड़ा कदम उठाया है।

amarpali haldwani

अधिशासी अभियन्ता का रोका वेतन

बता दें कि जिन पेयजल लाइनों से पानी की सप्लाई की जा रही है वह लगातार फट जा रही हैं। इतना ही नहीं पाइप लाइनों में पानी का लीकेज भी बढ़ गया है। यह समस्या पर्यटन नगरी नैनीताल में काफी दिनों से देखी जा रही है। जिसकी जानकारी प्राप्त होने पर आयुक्त कुमाऊं मण्डल राजीव रौतेला ने जिलाधिकारी विनोद कुमार सुमन को जल संस्थान के जिम्मेदार अधिकारियों का तत्काल वेतन रोकने के निर्देश दिए।

जिस क्रम में जिलाधिकारी विनोद कुमार सुमन द्वारा अधिशासी अभियन्ता जल संस्थान संतोष कुमार उपाध्याय तथा अधीक्षण अभियन्ता जल संस्थान अंसारी का आगामी आदेशों तक वेतन रोकने का आदेश जारी किया है। सुमन ने जल संस्थान के अधिकारियों को आदेशित किया कि वह क्षेत्र भ्रमण कर नैनीताल शहर तथा आसपास के इलाकों की पेयजल आपूर्ति तत्काल बहाल करना सुनिश्चित करें।