हल्द्वानी-सत्ताधारी दल के नेता खोद रहे थे कोसी, खनन विभाग ने ऐसे उठाया पर्दा

Slider

रामनगर -न्यूज टुडे नेटवर्क-आज एडीएम नैनीताल हरवीर सिंह के नेतृत्व में खनन विभाग के उपनिदेशक राजपाल लेघा व पुलिस विभाग द्वारा कोसी नदी में औचक छापेमारी की। इस दौरान 11 वाहनों को अवैध करते पकड़ा। इस दौरान प्रशासन की टीम को देखकर खनन माफिया अपनी 6 बाइकें भी मौके पर छोडक़र फरार हो गये। इन वाहनों को पीरूमदारा चौकी को सौंप दिया गया। वही प्रशासन का छापा पड़ते से अवैध खनन कारोबारी मौके से फरार हो गये। बताया जा रहा है कि इसमें सत्ताधारी दल से जुड़ा एक पूर्व ग्राम प्रधान का वाहन इस अवैध खान में शामिल था। वही दूसरी छापेमारी करते हुए प्रशासन व खनन विभाग की टीम ने तीन टैक्ट्रर-ट्रालियों को पकडक़र सीज कर दिया। यह छापेमारी प्रशासन द्वारा बंजारी गेट द्वितीय पर किया। इन वाहनों को प्रशासन ने गेट इंजार्च को सुदुर्प कर दिया। छापेमारी के बाद क्षेत्र के खनन माफियों में हडक़ंप मच गया।

Slider

15 वाहन किया जब्त

बताया जा रहा है कि अवैध खनन में रामनगर क्षेत्र के पूर्व प्रधान नंद राम का वाहन भी शामिल था। खनन माफिया प्रशासन की टीम को देख मौके से फरार हो गये। नंदलाल सत्ताधारी दल से जुड़े हुए है। वही कई अन्य राजनीतिक दलों से जुड़े नेताओं के वाहन भी इस अवैध खनन में शामिल थे। बताया जा रहा है कि लंबे समय से अवैध खनन चल रहा था जिसकी सूचना मिलने पर एडीएम हरवीर सिंह के नेतृत्व में खनन और पुलिस विभाग ने बड़ी कार्रवाई की। इस दौरान मौके पर दोनों जगहों से 20 वाहनों को पकड़ा। जिसमें 6 बाइकें, सात डंपर और सात टैक्ट्रर-ट्रालियां शामिल है। इस दौरान एडीएम हरवीर सिंह ने कहा कि अवैध खनन किसी भी हाल में बर्दाश्त नहीं किया जायेगा। वही सत्ताधारी दल से जुड़े होने से कई लोगों ने अपने संपर्को को ढूढऩा शुरू कर दिया।

रामनगर की पुलिस को नहीं लगी भनक

खनन विभाग के उपनिदेशक राजपाल लेघा ने बताया कि अवैध खनन की छापेमारी का पर्दाफाश करने के लिए वह हल्द्वानी से 30 पुलिसकर्मियों के दल को साथ ले गये थे। हैरान की बात यह है कि इस छापेमारी की भनक रामनगर पुलिस को तक नहीं लगी। लेघा ने बताया कि किसी भी हाल में अवैध खनन बर्दाश्त नहीं किया जायेगा। जिले भर में अवैध खनन करते पाये जाने पर कड़ी कार्रवाई की जायेंगी।

उत्तराखंड की बड़ी खबरें