हल्द्वानी-अचानक सडक़ पर बेहोश होकर गिर पड़ा ये व्यक्ति, सीपीयू ने ऐसे दी मानवता की मिसाल

Slider

हल्द्वानी-न्यूज टुडे नेटवर्क-एक बार फिर सीपीयू कर्मियों ने मानवता की मिशाल पेश की। वाक्या आज दोपहर का है। सिन्धी चौराहे पर अचानक एक व्यक्ति बेहोश होकर सडक़ पर जा गिरा। इस दौरान वहा मौजूद सीपीयू कर्मियों ने मानवता की मिसाल पेश करते हुए आनन-फानन में उसे रिक्शे में बैठाकर अस्पताल में भर्ती कराया। जिससे उसकी जान बच गई और कोई अनहोनी नहीं हुई। जिसके बाद सीपीयू कर्मियों ने उसके परिजनों को इसकी सूचना दी। इससे पहले भी सीपीयू द्वारा कई सामाजिक कार्यों में मिशाल पेश की गई है। सीपीयू ने यातायात सुचारू कराने के साथ-साथ मानवता की मिसाल पेश की है।

Slider

पहले भी दे चुकें है मानवता की मिसाल

आज सिंधी चौराहे के पास अचानक एक व्यक्ति बेहोश हो सडक़ पर गिर गया। इस दौरान वहां पर मौजूद सीपीयू दारोगा ललित मोहन रावल और हरीश बुधलाकोटी ने मानवता की मिसाल पेश करते हुए तुंरत उस व्यक्ति को ई-रिक्शे में बैठाकर अस्पताल में भर्ती कराया। बतया जा रहा है कि बेहोश हुए व्यक्ति का नाम प्रदीप जयसवाल पुत्र पूरन सिंह जयसवाल निवासी नीलकंठ बिहार पीलीकोठी है। सीपीयू ने उनके परिजनों को सूचित कर दिया है। इससे पहले भी सीपीयू कर्मी हरीश बुढ़लाकोटी व अयूब अली को सडक़ पर पर्स मिला, जिसमें 10000 रूपये की धनराशि, मोबाइल, चेन, एटीएम कार्ड, पेन कार्ड, डीएल और अन्य चीजें थी। पर्स के असली मालिक का सीपीयू ने पता लगाया जो पीलीकोठी निवासी माया गुरूरानी का था। सीपीयू कर्मी हरीश बुढलाकोटी ने उस महिला को बुलाकर उसका सामान वापस लौटाया था।

उत्तराखंड की बड़ी खबरें