हल्द्वानी- तेजी से बड़ रहा साईबर लुटेरों की लूट का ग्राफ, पुलिस की ऐसे बड़ रही मुश्किलें

Slider

Cyber Crime Haldwani, अगर आप भी अपने खातों में अपनी मेहनत की कमाई जोड़े निशचिंत होकर बैठे है, तो ये खबर आप के काम की है। नगर में बड़ते साईबर अपराध के मामलों ने लोगो को चिंता में डाल दिया है। आखिर कब किसके फोन पर मैसेज आये। और उनकी मेहनत की कमाई या किसी जरूरी कार्य के लिए जोड़े पैसे कोई बिना इजाजत के निकाल लें। आज के इस दौर में जहां लोग इंटरनेट के इतने करीब है, ऐसे में ये अपराधी इस तरह की वारदात को बड़ी ही सरलता से अंजाम दे रहे है। ऐसे में साइबर अपराध के ग्राफ में में भी तेजी से इजाफा नजर आ रहा है।

बावजूद इसके नैनीताल पुलिस इन अपराधियों को या इनकी चोरी की टैकनिक को पकड़ पाने में असमर्थ है, और ये ठग आये दिन लोगो के खातों को खाली करने का कार्य कर रहे। जिससे आम जनता के साथ-साथ पुलिस की मुश्किल भी बड़ रही है। हल्द्वानी में एक बार फिर इन अपराधियों ने पुलिस को चुनौती दे डाली है। एक बार फिर इन साईबर लुटेरों ने अपने तिलिस्म से नगर में दो अलग-अलग खातों से हजारों की रकम ठिकाने लगा दी है। पीड़ितो की शिकायत पर पुलिस मामले में कार्यवाई की बात कर रही है।

Slider

आईसीआईसीआई बैंक खाते से निकाले 7500

जानकारी मुताबिक सुभाष नगर निवासी मनीष कुमार का आईसीआईसीआई बैंक में खाता है। उसका कहना है कि रविवार को उसके मोबाइल पर बैंक खाते से 7500 रुपये की नगदी निकलने का मैसेज आया। उसका कहना है कि उसने न तो अपना बैंक का एकाउंट नंबर ही किसी को दिया है। न ही एटीएम का पिन किसी के साथ साझा किया है। बावजूद इसके उसके खातें से पैसे निकाल लिये गए। मामले में पीड़ित ने पुलिस से अपनी पैसे वापस दिलवाने की मांग की है।

एसबीआई खाते से निकाले 57 हजार

वही दूसरी ओर कैनाल रोड तिकोनिया निवासी सरस्वती देवी के एसबीआई बैंक खाते से इन साईबर ठगों ने 57 हजार रुपये की रकम निकाल ली। सरस्वती का कहा कि उनके द्वारा अपने खाते की गोपनीय जानकारी या नबंर किसी के साथ भी साझा नहीं किया है। ऐसे में बिना किसी के इतनी बड़ी रकम निकाल जाने से महिला सदमें में है। जिसकी जांच के लिए उन्होंने पुलिस को मामले में तहरीर सौंपी है। साथ ही पैसो को जल्द वापस दिलवाने की भी गुहार लगाई है। पुलिस दोनों मामलों में जांच की बात कह रही है।

उत्तराखंड की बड़ी खबरें