हल्द्वानी- मंत्री प्रकाश पंत ने मौत से पहले लिखा था यह अंतिम मार्मिक खत, पढेंगे तो आँसू नहीं रोक पाओगे।

1861

दिल्ली में उपचार के दौरान स्व0 प्रकाश पंत जी द्वारा लिखा अंतिम लेख। स्वर्गीय प्रकाश पंत का स्वास्थ्य जब ज्यादा खराब था तब भी उन्होंने लिखना नहीं छोड़ा था। वह कवि और साहित्यकार दोनों के रूप में कार्य करते रहे। उनकी कई कृतियां हमेशा लोगों के जहन में रहती होगी लेकिन अंतिम लेख” मैं जीत कर आऊँगा” बहुत ही मार्मिक कविता है।

मंत्री प्रकाश पंत का आखिरी पत्र

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here