iimt haldwani

हल्द्वानी-थाना प्रभारी सुशील कुमार की प्लानिंग ने कर दिया नशे के कारोबार का भड़ाफोड़, मेडिकल संचालक गिरफ्तार

1298

हल्द्वानी-नैनीताल पुलिस ने नशे की खिलाफ एक लंबे समय से अभियान चलाया है। इसमें वह काफी हद तक नशे के सौदागरों को सलाखों के पिछे भेजने में सफल साबित हुई है। लेकिन चौकी-थानों में बैठे कई दरोगा ऐसे है जो इस जहरीले कारोबार को जड़ से उखाड़ फेंकना चाहते है। ऐसें ही एक नाम है सुशील कुमार, जो वर्तमान में बनभूलपुरा के थाना प्रभारी है। जिस तरह से उन्होंने नशे के सौदागर को दबोचा वाकई वह काबिले तारीफ है। हर कोई उनके काम की सराहना कर रहा है। जिसके बाद पुलिस ने भारी मात्रा में नशे की दवाइया बरामद की।

amarpali haldwani

Medical Store

महिला की सूचना पर सादी वर्दी में पहुंचा सिपाही

हुआ यूं कि नवाबी रोड में रहने वाली एक महिला ने बनभूलपुरा पुलिस को सूचना दी गई उसका बेटा नशे का आदी हो गया है। वह नशे की दवाइयां लाइन नंबर 12 से लाता है। उसका बेटा कोरेक्स का नशा करता है। इसके बाद बनभूलपुरा थाना प्रभारी सुशील कुमार एक्शन में आ गये। उन्होंने योजना बनाई और एक सिपाही को सादी वर्दी में मेडिकल स्टोर पर भेजा। सिपाही ने मेडिकल स्टोर संचालक से कोरेक्स देने को कहा जैसे ही उसने कोरेक्स दिया संचालक एहतेशाम अहमद को तुरंत गिरफ्तार कर लिया। आरोपी मेडिकल स्टोर संचालक मेडिकल एसोसिएशन का उपाध्यक्ष भी बताया जा रहा है।

Sushil Kumar Si

मेडिकल स्टोर का संचालक गिरफ्तार

इसके बाद पुलिस ने मेडिकल स्टोर से भारी मात्रा में कोरेक्स के अलावा अन्य नशीली दवाइयां बरामद की हैं। इस मामले की जानकारी पुलिस ने ड्रग इंस्पेक्टर को दी है। पुलिस ने मेडिकल स्टोर संचालक के खिलाफ शांतिभंग की धारा के तहत कार्रवाई की है और मेडिकल स्टोर को सील कर दिया है। थाना प्रभारी सुशील कुमार ने बताया कि ड्रग इंस्पेक्टर के पहुंचने पर मामले की गहनता से जांच कराई जायेगी और धाराओं में बढ़ोत्तरी की जायेगी। वह प्रतिबंधित नशीली दवाइयां बेचने का काम कर रहा था। थानाध्यक्ष ने बताया कि सीएमओ नैनीताल व ड्रग इंस्पेक्टर को आरोपी मेडिकल स्टोर संचालक का लाईसेंस निरस्त करने की संस्तुति भेजी है। उन्होंने कहा कि क्षेत्र में नशे का कारोबार करने वालों पर पुलिस नजर बनाये हुए है। नशे के खिलाफ सौदागरों को सलाखों के पीछे भेजने का अभियान जारी रहेगा।