हल्द्वानी-महेश के इस नॉन स्टॉप गीत ने मचाई धूम, पहली बार अभिनय कर लूटी वाहवाही

258

हल्द्वानी-न्यूज टुडे नेटवर्क- (जीवन राज)- उत्तराखंड की गायकी में अपना नाम कमा चुके महेश कुमार के गीतों ने समूचे उत्तराखंड में खूब धूम मचा रखी है। ये तो होना ही था क्योंकि जिस गीत में गायक और अभिनय एक ही व्यक्ति ने किया हो तो उसका मजा ही कुछ और होता है। एक गायक की अपनी जुबांन से निकले शब्दों को एक बेहतरीन अभिनय में ढाल सकता है। ऐसा ही कुछ गायक महेश कुमार ने इस नॉन स्टॉप गीत में किया है। इन दिनों उनके नॉन स्टॉप गाने ने पहाड़ से मैदान तक खूब धूम मचा रखी है। शादी-विवाह में इस गाने ने डीजे पर कब्जा जमा रखा है। जिसे सुनकर लोग खूब थिरक रहे है। यह एक वीडियो गीत है। जिसमें पहली बार गायक महेश कुमार में स्क्रीन पर बेहतरीन अभिनय करते नजर आये है। ये गीत हॉलीवुड ब्लॉकबुस्टर यू-ट्यूब चैनल से रिलीज हुआ। जिसके प्रोडयूसर भगत लटवाल है जो पहले भी कई हिट गीतों को अपने चैनल से रिलीज कर चुके है। इस नॉन स्टॉप गीत में पुराने अंतरे लोगों के बीच रखे गये है जिन्हें लोग खूब पसंद कर रहे है।

यह भी पढ़ें- यहां की महिलाएं न होती हैं बूढ़ी और न ही बीमार, 70 साल की उम्र में दिखाई देती हैं जवान, 150 वर्ष तक होता है इनका जीवनकाल

लिंक पर क्लिक कर आप भी सुनियें गीत-

यह भी पढ़ें-हल्द्वानी-मिस और मिस्टर यूके बने आकांक्षा और आकिब, ग्रान्ड फिनाले जूरी भावेश की बातों ने मोहा दर्शकों का मन

महेश ने दिये एक के बाद एक सुपरहिट गीत

एक बेहतरीन डांसिंग वीडियो गीत है। जब से महेश ने उत्तराखंड के संगीत में कदम रखा तब से एक के बाद एक सुपरहिट गीत दिये। उनके सोली धुरा धुर जंगला गाने ने उत्तराखंड के संगीत जगत में उनकी जगह पक्की कर दी थी। महेश हर तरह के गीत गाने में माहिर है। आज समूचे उत्तराखंड में उनके हजारों फैंस है जो उनके गीतों का भरपूर आनंद लेते है। महेश को उत्तराखंड की गायकी में एक बड़े प्लेटफॉर्म पर ले जाने का काम कर रहे है। इससे पले उनके कमला बिजौरा, सोली धुरा धुर जंगला, मखमली बिलौजा, छमना बिलौरा, भाना बामणी, लागिछी बड़ी झम्म, कोसी गाढ़ा धाना सुपरहिट गीत रहे।

यह भी पढ़ें-यहां की महिलाएं न होती हैं बूढ़ी और न ही बीमार, 70 साल की उम्र में दिखाई देती हैं जवान, 150 वर्ष तक होता है इनका जीवनकाल

अपनी आवाज से जीता लोगों का दिल

अब उनके नॉन स्टॉप गाने पर लोग खूब थिरक रहे है। बचपन से ही गायकी के शौक ने महेश को आज एक बड़ा स्टार बना दिया है। कभी स्कूलों में गाने वाले महेश को आज लोग बड़े-बड़े मंचों पर सुनने आ रही है। महेश कई शहरों में अपने प्रोग्राम दे चुके है। वह अपने गीतों के माध्यम से उत्तराखंडी संस्कृति को आगे बढ़ा रहे है। इस नॉन स्टॉप गीत में महेश ने खुद अभिनय किया है और उनके साथ-साथ बिमला भंडारी, ज्योति कोटनाला, सूरज पाल, पंकज रावत, अर्जुन देशवाल ने जबरदस्त अभिनय से दर्शकों का दिल जीता है।

मॉडलिंग नाम कमा चुके है भगत लटवाल

हॉलीवुड ब्लॉकबुस्टर यू-ट्यूब चैनल प्रोडयूसर भगत लटवाल मूलरूप से अल्मोड़ा के चौसली गांव के रहने वाले है। वर्ष 2010 में उन्होंने गोवा में मॉडलिंग का खिताब जीता। वह एक अच्छे सिंगर और एक्टर भी है। छह साल तक मॉडलिंग के क्षेत्र में काम करने के बाद वह देवभूमि की संस्कृति को संवारने में जुट गये। वर्ष 2015 में होली के गीत रंग बरसे पहाड़ में से एक गायक, एक्टर और निर्माता के तौर पर कदम रखा। इसके अलावा वह पहाड़ी और हिन्दी भजन गायक अपना नाम कमा रहे है। वह देवभूमि के नये कलाकारों को आगे बढऩे का मौका देते है। गायक महेश कुमार का यह नॉन स्टॉप गीत उन्हीं के चैनल से आया है।