पुलिस की लापरवाही से एक बार फिर दहला हल्द्वानी, यहां से पकड़ में आया बहन का हत्यारा

669

हल्द्ववानी- न्यूज टुडे नेटवर्क: वनभूलपुरा थाना क्षेत्र के गफूर बस्ती में गर्भवती महिला की हत्या करने वाले हत्यारें भाई को पुलिस ने पकड़ लिया है। जानकारी मुताबिक फैजान को पुलिस ने देर रात रेलवे लाइन से दबोचा है। वही मृतका बरखा की मां नूरजहां की तहरीर पर पुलिस ने हत्यारें फैजान और उसके पिता के खिलाफ धारा 302 के तहत मामला दर्ज किया है। इधर नगर की पुलिस पर एक बार फिर अपना फर्ज अदा न करने का लांछन पीड़ित परिवार ने लगाया है। जिसके चलते एसपी सिटी अमित श्रीवास्तव ने तीन पुलिसकर्मियों को निलंबित कर दिया है। वही मामले में पुलिस जांच जारी है।

पुलिस की लापरवाही से दहला हल्द्वानी

मालूम हो 600 रुपए को लेकर शुरु हुए विवाद से गुस्साएं ममरे भाई ने अपनी गर्भवती बहन को सरेआम चाकू से गोदकर मौद के घाट उतार दिया। मामला मंगलवार रात का है। उस वक्त मृतका बरखा किसी काम से अपने घर के पास रोड पर खड़ी थी। उसी वक्त मौका पाकर कलयुगी भाई ने उसे चाकू घोंपकर लहूलुहान कर दिया। वही अस्पताल ले जाने पर डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। मामले में पीड़ित परिवार ने पुलिस की लापरवाही को हत्या का कारण बताया है। जानकारी मुताबिक पीड़ित परिवार कई दिनों से फैजान के जुर्म सहन कर रहा था।


हत्या से कुछ रोज पहले ही फैजान ने बरखा की मां नूरजहां पर भी वार कर उसे घायल कर दिया था। जिसके चलते नूरजहां के सर पर 12 टांके भी आए थे। जिसकी शिकायत लेकर नूरजहां और उसकी मृतक बेटी कई बार वनभूलपुरा थाना गए थे। लेकिन पुलिस ने उनकी शिकायत को गंभीरता से नहीं लिया। जिससे फैजान का मनोबल और बड़ गया, और उसने अपनी ही बहन को मौत के घाट उतार दिया। इधर पूरे मामले के बाद से पुलिस की कार्यप्रणाली एक बार फिर सवालों के घेरे में है। हत्या की गूंज से नगर वासी एक बार फिर दहसत में हैं।

मौत से जागा पुलिस प्रशासन

बता दें कि बरखा की मौत के बाद नींद से जागे पुलिस प्रशासन ने मामले में जांच को लेकर पुलिस टीम गठित की है। जिसकी लगाम सीओ दिनेश चंद्र ढौंडियाल को सैपी गई है। इधर पीड़ित परिवार द्वारा लगाए गए आरोप के बाद एक्शन में आये एसपी सिटी अमित श्रीवास्तव ने तीन पुलिसकर्मियों को मामले में लापरवाही बरतने के चलते निलंबित कर दिया है। वहीं अन्य के खिलाफ जांच जारी है।