drishti haldwani

हल्द्वानी-मुन्ना भाई एमबीबीएस और थ्री इंडीयट् फिल्म से कमा चुके है नाम, सिनेमटो्रग्राफर राजेश साह ने बच्चों को दिये फिल्म मेकिंग के टिप्स

370

हल्द्वानी- शिवाया फिल्म प्रोडक्शन द्वारा आयोजित 21 दिवसीय अभिनय कार्यशाला के अठारहवें दिन सिनेमटो्रग्राफर राजेश साह की कक्षा में बच्चों ने बढ़-चढक़र के हिस्सा लिया। फिल्म जगत का सबसे बड़ा स्तम्भ कैमरा है। जिसका किसी भी फिल्म को अच्छा या बुरा करने में सबसे बड़ा योगदान होता है। राजेश साह ने नैनीताल के सेंट जोशेफ स्कूल से शुरूआती शिक्षा हासिल की। इसके बाद डीएसबी कैम्पस से स्नातक की डिग्री पूरी की। फिर पुणे के एफटीआइआइ से सिनेमटोग्राफी में पोस्ट ग्रैजूएशन की डिग्री हासिल की। इन्होंने इसके बाद बॉलीवुड की बहुत सी छोटी बड़ी फिल्मों में बतौर सीनेमटोग्राफऱ काम कियाए। अपने अनुभवों को साझा करते हुए उन्होंने फि़ल्म मेकिंग की अनेक विधियां बताई। कैमरा को चलाने और सम्भालने का तरीके बताये। लोंग शॉट, मिड शॉट, क्लोज़ उप, ज़ूम इन, ज़ूम आउट इत्यादि जैसे बहुत से टैक्रिकल शब्दों की जानकारी देते हुए कहा कि फिल्म एक ऐसा माध्यम है जिस से हम दर्शकों को सबसे ज़्यादा आकर्षित कर सकते हैं। फिल्म ही एक ऐसा माध्यम है जो लोगों को भावुक और प्रफुल्लाता से ओत प्रोत दोनों एक साथ कर सकता है।

iimt haldwani

मुन्ना भाई एमबीबीएस में कर चुके है काम

इस क्षेत्र में उल्लेखनीय कार्य करने पर उन्हें 2001 में नेशनल अवार्ड से नवाज़ा गया। उन्होंने मुन्ना भाई एमबीबीएस और थ्री इंडीयट्स जैसी बड़ी फिल्मों में बतौर असिसटेंट सिनेमटोग्राफऱ काम किया। उनकी उपलब्धियों को बताते हुए प्रोडक्शन हाउस के महेन्द्र नगर और आकाश नेगी ने बताया कि बच्चों के यह बहुत ही सुनहरा अवसर था। हम राजेश शाह का धन्यवाद करते हैं, जो उन्होंने प्रोडक्शन हाउस के बच्चों के लिए अपना क़ीमती समय निकला।

इस मौके पर कार्यशाला में महेन्द्र नागर, आकाश नेगी, चारु तिवारी, देव तिवारी, पवन कार्की, बाबा भाई, डॉक्टर नीरज वाष्र्णेय, नितिन पांडेयए ऋषभ, स्वेता, ख़ुशी, प्रकाश, रीता, रिया, मनीष, आकाश, साहिल, आयुष, सिद्धि, आदि मौजूद थे।