PMS Group Venture haldwani

रोहित सती क्लासेज़ में पढ़ने वाले विद्यार्थियों की सुरक्षा राम भरोसे, फायर रिपोर्ट के बाद अभिभावकों में खौफ

Rohit Sati Classes Haldwani, लंबे समय से प्रशासन की आंख में धूल झोक कर चल रही रोहित सती क्लासेस आपके बच्चों के लिए कितनी सुरक्षित है, इस बात का न्यूज टुडे नेटवर्क ने पर्दाफाश किया है। अधिकारियों की माने तो रोहित सती कोचिंग सेंटर की बिल्डिंग अग्निशमन विभाग द्वारा जारी किये जानी वाली एनओसी हासिल किये बिना ही अवैध रूप से बनाई गई है। केवल एक दो उपकरण सजा कर यह कोचिंग सेंटर बच्चों की सुरक्षा का झूठा दावा करते नजर आता है। जोकि सुरक्षा मानको के खिलाफ है। इसी कारण से कई अभिभावक अपने बच्चों को रोहित सती क्लासेस में भेजने से गुरेज कर रहे है। वही इस संबंध में जब हमने रोहित सती कोचिंग के मालिक से बात करनी चाही तो उनसे संपर्क नहीं हो पाया।

कोचिंग तो कोचिंग बिल्डिंग भी अवैध

इतना ही नहीं जिस कपिल कॉन्प्लेक्स में यह कोचिंग सेंटर है उसकी सुरक्षा भी मानको से परे है। जबकि मानको की माने तो किसी भी कॉन्प्लेक्स या बिल्डिंग के निर्माण से पहले अग्निशमन विभाग की एनओसी होनी जरूरी है। जिसके बाद ही विभाग द्वारा सुरक्षा का प्रमाण किसी भी बिल्डिंग या कॉन्प्लेक्स को दिया जाता है। ऐसे में हल्द्वानी के कपिल कॉन्प्लेक्स और रोहित सती क्लासेस में हजारों की फीस देकर डॉक्टरी व अन्य प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी को आने वाले विद्यार्थियों की सुरक्षा राम भरोसे है। ऐसे में इन बच्चों की सुरक्षा के लिए आखिर कौन जिम्मेदार है। ये एक बड़ा सवाल है। जिसको लेकर उनके परिजन भी भयभीत है।

एसडीएम को भेजी सूची

अग्निशमन विभाग के एफएसओ जगदीश सिंह ने जानकारी दी कि हल्द्वानी में ऐसे 78 अवैध संस्थानों की सूची जारी कर एसडीएम को भेजा जा चुका है। जिसपर जल्द ही उनके द्वारा कार्यवाई की जाएगी।

कोरोना पीड़ित संदिग्ध बोला डॉक्टर साहब मेरी जान बचा लो। देखिये अस्पताल में अंदर फिर क्या हुआ। मॉक ड्रिल अस्पताल की।