PMS Group Venture haldwani

हल्द्वानी-मोदी सरकार के नये मंत्रिमंडल में इन्हें मिलेगी बड़ी जिम्मेदारी, ये है उत्तराखंड से सबसे बड़े दावेदार

हल्द्वानी-लोकसभा चुनाव में उत्तराखंड से भाजपा को पांचों सीटों में जीत मिली है। ऐसे में एक बार फिर मोदी सरकार के मंत्रिमंडल में प्रदेश के सांसदों को मौका मिल सकता है। एक बार फिर चर्चाओं का बाजार गर्म है। पिछली बार की मोदी सरकार में अल्मोड़ा-पिथौरागढ़ के सांसद अजय टम्टा को मौका मिला था। टम्टा को वस्त्र मंत्रालय में राज्यमंत्री का पद मोदी सरकार में मिला। इस समय टम्टा ने अपनी जीत से सबको प्रभावित किया था। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का उत्तराखंड से एक अलग ही अलाव है। इसके अलावा हर सरकार में उत्तराखंड का किसी ने किसी नेता को बड़ी जिम्मेदारी मिली है। ऐसे में एक बार फिर उत्तराखंड की लोगों में उम्मीद जगी है कि नई सरकार में मंत्रिमंडल में एक पद तो उत्तराखंड के खाते में आयेगा। इस बार रेस में सबसे पहले राज्य सदस्य भाजपा के राष्ट्रीय मीडिया प्रमुख अनिल बलूनी, नैनीताल सीट से जीते प्रदेश अध्यक्ष अजय भट्ट, हरिद्वार और अल्मोड़ा से जीते पूर्व सीएम रमेश पोखरियाल और अजय टम्टा का नाम शामिल है। देखना है कि किसे मोदी सरकार में जगह मिलती है।

अनिल बलूनी है राज्य से सबसे बड़े दावेदार

जिस तरह से राज्यसभा सदस्य और भाजपा के राष्ट्रीय मीडिया प्रमुख अनिल बलूनी ने विकास कार्योँ के अंजाम दिया है। एक के बाद एक योजनाओं का धरातल पर लाये है उससे साफ होता है कि बलूनी को मोदी सरकार के मंत्रिमंडल में जगह मिल सकती है। बलूनी केन्द्र से कई योजनाएं उत्तराखंड में लाये है। ऐसे में मोदी सरकार में मंत्री बनने का बड़ा और सबसे पहले मौका उनके पास है। इनके बाद नैनीताल से पहली बार लोकसभा पहुंचे अजय भट्ट पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष हैं। इस बार वह राज्य में सबसे ज्यादा मतों से जीते और उन्होंने कांग्रेसी दिग्गज हरीश रावत को पराजित किया। उन्हीं के नेतृत्व में पिछले विधानसभा चुनाव में भाजपा ने 70 में से 57 सीटों पर जीत दर्ज की। उन्हें भी केंद्रीय मंत्रिमंडल में जगह मिल सकती है। वही लगातार दो बार सांसद चुने गये पूर्व सीएम रमेश पोखरियाल निशंक भी दौड़ में शामिल है। वही वर्ष 2014 में अजय टम्टा वस्त्र मंत्रालय में राज्यमंत्री के रूप में केंद्र सरकार में शामिल किया गया था। अब उन्हें अल्मोड़ा सीट पर दूसरी बार जीत मिली है ऐसे में एक बार फिर उन्हीं मोदी सरकार में जगह मिलने की उम्मीद है।

(कोरोना वायरस)उत्तराखंड के पहले ट्रेनी IFS अफसर जिन्होंने मौत को मात दी, देखिये पूरी कहानी