inspace haldwani
inspace haldwani
Home उत्तराखंड कुमाऊँ हल्द्वानी- प्रवासियों को प्रदेश में रोजगार दो, पढिय़े किसने कहा रैबार और...

हल्द्वानी- प्रवासियों को प्रदेश में रोजगार दो, पढिय़े किसने कहा रैबार और घर आवा के राग न गाये राज्य सरकार

नैनीताल- टेलर की बेटी ने ऐसे किया सरोवर नगरी नैनीताल का नाम रोशन..पढ़िए पूरी खबर

  नैनीताल-- शहर में टेलर का काम करने वाले राजकुमार की बेटी ने नेट क्वालीफाई किया है। गरीब परिवार की बेटी की कामयाबी से परिवार...

भीमताल-बहुउददेशीय शिविर में उमड़े लोग, इन समस्याओं का हुआ समाधान

भीमताल-आज बहुउददेशीय शिविर जिलाधिकारी सविन बंसल द्वारा पुन: शुरू कर दिये गये है। स्थितियां सामान्य होने की ओर अग्रसर होने पर अनलॉक हुआ जिसके...

रामनगर-31 प्रतिशत अभ्यर्थियों ने छोड़ दी डीएलएड प्रवेश परीक्षा, सामने आयी ये बड़ी वजह

रामनगर-प्रदेश में आज डीएलएड की प्रवेश परीक्षा शांतिपूर्वक संपन्न हो गई। इस दौरान 31 प्रतिशत अभ्यर्थियों ने परीक्षा छोड़ दी। बड़ी संख्या में परीक्षा...

धारचूला-काली नदी में समाई स्कार्पियो, सुबह-सुबह मिली दर्दनाक मौत

धारचूला- आज धारचूला-तवाघाट मार्ग पर धारचूला से दोबाट जा रही एक स्कार्पियो धारचूला से लगभग चार किमी दूर टीवी टावर के पास सडक़ से...

हल्द्वानी-उत्तराखंड जनकवि बल्ली सिंह चीमा को मिलेगा शिरोमणि हिंदी साहित्यकार सम्मान, इस राज्य ने की घोषणा

हल्द्वानी- पंजाब सरकार ने जनकवि राज्य आंदोलनकारी और ले मशालें चल पड़े हैं लोग मेरे गांव के!! जैसे कालजयी जनगीत के रचनाकार बल्ली सिंह...

हल्द्वानी-उत्तराखंड क्रांति दल को प्रदेश का जनक भी कहा जाता है। आज पूरा देश लॉकडाउन है ऐसे में पहाड़ के सबसे ज्यादा युवा अन्य राज्यों में फंस गये है। राज्य सरकार उन्हें लाने का प्रयास कर रही है। कई नंबर भी जारी किये गये लेकिन वह फोन उठते ही नहीं, मुख्यमंत्री राहत कोष और पीएम केयर फंड में पर्याप्त पैसा उसका सरकार इन युवाओं को घर लाने में इस्तेमाल करे। यह राजनीति ने समय नहीं है हवाबाजी में काम न करें। यह कहना है यूकेडी के वरिष्ठ नेता व पूर्व विधायक काशी सिंह ऐरी का। उन्होंने अपने फेसबुक पेज पर एक पोस्ट शेयर करते हुए लिखा। आप भी पढ़े-

Kashi singh Aire

उत्तराखण्ड में रोजगार की स्थिति ठीक न होने के कारण यहां के लाखों युवकों को रोजगार के लिए देश के विभिन्न हिस्सों में जाना पड़ता है। आज कोरोना महामारी के चलते प्रवास में रोजगार कर रहे युवको के पास रोजगार भी नहीं है, ऐसे में वह अपने घर लौटना चाह रहे हैं, सरकार ने इसके लिए होमवर्क किये बिना ही काम शुरू कर दिया और एक हेल्पलाइन पर रजिस्ट्रेशन शुरू किए, फिर सरकार ने कहा कि अब उनको नहीं लाया जाएगा, जो रास्ते में फंसे है, सिर्फ उन्हीं को लायेंगे। जिससे उन युवकों के समक्ष गंभीर संकट आ गया है। पहले तो उनके प्रदेश की सरकारें उन्हें रोजगार नहीं दे पाई, जिसके चलते मजबूरी में उन्हें अन्य राज्यों में जाना पड़ा, लाकडाउन के चलते रोजगार बचा नहीं, संचित धन खत्म हो रहा है, अपने राज्य में जाने के लिए जिन अधिकारियों या हेल्पलाईन के नम्बर जारी किये गए हैं वह फोन उठाते नहीं हैं।

kashi-singh-airi

 

मुख्यमंत्री राहत कोष और पीएम केयर फंड में पर्याप्त पैसा है, उसका इस्तेमाल कर सभी युवकों को अपने घर वापस लाया जाना जरूरी है। यह समय राजनीति का नहीं है, यह समय हवाबाजी करने का भी नहीं है। उत्तराखण्ड सरकार को गंभीर होकर देश की तमाम जगहों पर फंसे युवकों की सकुशल घर वापसी करनी होगी, इतना ही नहीं उन सभी का स्वास्थ्य परीक्षण भी करना होगा और हर तहसील मुख्यालय में उनको 14 दिन आईशोलेशन में रखकर गांव भेजना होगा। इसके बाद सरकार देहरादून के होटलों के मीटिंग हॉलों में जो 3 साल से स्वरोजगार, रैबार और घर आवा के राग गाकर सुर्खियां बटोर रही है, उसको धरातल पर उतरना होगा, ताकि जो युवा इस समय लुट पिट कर घर पहुंचेगा, वह दोबारा कहीं बाहर जाने में डरेगा। सरकार उसके स्किल और श्रमशक्ति का प्रयोग करे और उनको प्रदेश के अंदर ही रोजगार दिलाये।

यहाँ भी पढ़े

हल्द्वानी-बालाजी सर्जिकल दे रहा उचित दामों पर कोरोना से लडऩे वाली किट, पढिय़े कैसे खरीद सकते है आप

देहरादून- प्रदेश के जिलाधिकारियों को परिवहन विभाग ने दिया बड़ा झटका, वापस ली ये सुविधा

 

Related News

नैनीताल- टेलर की बेटी ने ऐसे किया सरोवर नगरी नैनीताल का नाम रोशन..पढ़िए पूरी खबर

  नैनीताल-- शहर में टेलर का काम करने वाले राजकुमार की बेटी ने नेट क्वालीफाई किया है। गरीब परिवार की बेटी की कामयाबी से परिवार...

भीमताल-बहुउददेशीय शिविर में उमड़े लोग, इन समस्याओं का हुआ समाधान

भीमताल-आज बहुउददेशीय शिविर जिलाधिकारी सविन बंसल द्वारा पुन: शुरू कर दिये गये है। स्थितियां सामान्य होने की ओर अग्रसर होने पर अनलॉक हुआ जिसके...

रामनगर-31 प्रतिशत अभ्यर्थियों ने छोड़ दी डीएलएड प्रवेश परीक्षा, सामने आयी ये बड़ी वजह

रामनगर-प्रदेश में आज डीएलएड की प्रवेश परीक्षा शांतिपूर्वक संपन्न हो गई। इस दौरान 31 प्रतिशत अभ्यर्थियों ने परीक्षा छोड़ दी। बड़ी संख्या में परीक्षा...

धारचूला-काली नदी में समाई स्कार्पियो, सुबह-सुबह मिली दर्दनाक मौत

धारचूला- आज धारचूला-तवाघाट मार्ग पर धारचूला से दोबाट जा रही एक स्कार्पियो धारचूला से लगभग चार किमी दूर टीवी टावर के पास सडक़ से...

हल्द्वानी-उत्तराखंड जनकवि बल्ली सिंह चीमा को मिलेगा शिरोमणि हिंदी साहित्यकार सम्मान, इस राज्य ने की घोषणा

हल्द्वानी- पंजाब सरकार ने जनकवि राज्य आंदोलनकारी और ले मशालें चल पड़े हैं लोग मेरे गांव के!! जैसे कालजयी जनगीत के रचनाकार बल्ली सिंह...

रुद्रपुर: गुमशुदी की सूचना देने थाने पहुंचे परिजनों की निकली चीख, जानिए क्यों

रुद्रपुर। घर से निकले थे ड्राइविंग करने, लेकिन शव गल्ला मंडी में मिला। माना जा रहा है कि अधिक शराब पीने की वजह से...