iimt haldwani

हल्द्वानी- एमबीपीजी कॉलेज में शुरू हुआ वार्षिकोत्सव एवं फागुन उत्सव, ये रहे मौजूद

126

हल्द्वानी- न्यूज टुडे नेटवर्क: एमबीपीजी डिग्री कॉलेज के वार्षिकोत्सव एवं फागुन उत्सव का शुभारंभ मुख्य अतिथि डॉ.स्वराज विद्वान तथा मेयर जोगेन्द्र पाल सिंह रौतेला ने दीप जलाकर किया। उत्सव में दो मिनट का मौन रखकर पुलवामा आतंकी हमले तथा अन्य घटनाओं में प्राणों की आहूती देने वाले वीर शहीदों को श्रद्धांजली दी। एनसीसी के विद्यार्थियों द्वारा देश भक्ति पर आधारित सांस्कृतिक कार्यक्रमो के माध्यम से माहौल को देश भक्तिमय बना दिया। इस दौरान डॉ.स्वराज ने उत्सव में विद्यार्थियों को सम्बोधित करते हुए कहा कि उत्सव के माध्यम से विद्यार्थियों द्वारा किताबी ज्ञान के अतिरिक्त अर्जित किये गए व्यावहारिक ज्ञान, देश की संस्कृति, कला एवं परम्पराओं के अर्जित ज्ञान एवं हुनर को दिखाने का अवसर मिलता है। उन्होंने महाविद्यालय द्वारा सामाजिक क्षेत्र में एनएसएस,एनसीसी व रक्तदान के माध्यम से किये जा रहे कार्यों की प्रशंसा करते हुए आगे भी सामाजिक क्षेत्र में और अधिक कार्यक्रम आयोजित करने का आह्वान किया।

amarpali haldwani

देश की तरक्की में युवाओं का हाथ

उन्होंने सभी विद्यार्थियों से अनुशासित रहते हुए शिक्षा ग्रहण करने के साथ ही सामाजिक कार्यों में महत्वपूर्ण भूमिका निभाने के लिए उत्साहित किया। उन्होंने कहा कि देश में युवा शक्ति 65 प्रतिशत से भी अधिक है। देश को तरक्की की राह पर आगे बढ़ाने के लिए युवाओं को प्रत्येक क्षेत्र में अपनी दमदार उपस्थिति दर्ज करानी हेागी। उन्होंने कहा कि देश के स्वतंत्रता आन्दोलन में युवा शक्ति के प्रवेश ने आन्दोलन को द्रुत गति प्रदान की और देश को आजाद कराने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई। उन्होंने युवा शक्ति को शक्तिबल का एहसास कराते हुए समाज में व्याप्त कुरीतियों को दूर करने में आगें आने का आह्वान किया।

उन्होंने कहा कि देश वासियों में देश भक्ति प्राचीन काल से विद्यमान है तथा आवश्यकता पड़ने पर कोई भी व्यक्ति देश की रक्षा में अपने प्राणों की आहूती देने में कोई संकोच नहीं करेगा। इस दौरान उन्होंने कहा कि शिक्षा एवं ज्ञान के अभाव में देश का चहुमुखी विकास असंभव है। कहा कि जिस प्रकार हमारे सैनिक सीमाओं पर अपनी जान की परवाह किए बिना देश की रक्षा कर रहे हैं, उसी प्रकार देश के विकास के लिए विद्यार्थियों एवं शिक्षकों को भी अपनी जिम्मेदारियां समझते हुए शिक्षा का दीपक प्रत्येक घर में जलाना होगा तथा कोई भी नागरिक शिक्षा से वंचित न रहे।

ये रहे आर्षण का केन्द्र

कार्यक्रम में लोक गायक गजेन्द्र राणा ने जय हो नन्दा देवी तेरी जय हो के माध्यम से राज्य की संस्कृति एवं परमपराओं से रूबरू कराया। इसके साथ ही उनकी बब्ली तेरू मोबाईल, लाली हो सिया, फूर्की बांद आदि अन्तरा वाले गीतों के माध्यम से विद्यार्थियों को थिरकने पर मजबूर कर दिया। लोक गायिका माया उपाध्याय की मनमोहक प्रस्तुतियों हाय ककड़ी झिल मां, ओ मेरी चन्दा ने तथा गायक किशन सिंह हरियाला की रानीखेत की हिमुली, राकेश खनवाल के पहाड़ो ठण्डो पानी, बसंती छोरी ने दर्शकों को भाव-विभौर कर दिया। महाविद्यालय की छात्राओं द्वारा सरस्वती वन्दना तथा स्वागत गीत प्रस्तुत किया तथारूमल का गांठा, डीडीहाट की विमला छौरी, नीमा छौरिये आदि पहाड़ी गीतो पर प्रस्तुत नृत्य ने सभी का मन मोह लिया।

व्यायाम प्रशिक्षुओं द्वारा योग नृत्य के माध्यम से सभी नागरिकों को अपने दैनिक जीवन में योग अपनाने के लिए प्रेरित किया। क्षेत्र की उभरती हुई प्रतिभा राहुल यादव ने अभिनेता नाना पाटेकर, इरफान खान, अमरेश पुरी, शाहरूख खान, अजय देवगन की मिमीक्री के माध्यम से सबको आश्चर्यचकित करने के साथ ही हॅंसने पर मजबूर कर दिया।
इस अवसर पर महाविद्यालय के प्राचार्य जीएस बिष्ट ने महाविद्यालय का वार्षिक प्रगति एवं आख्या रिपोर्ट प्रस्तुत की। इस अवसर पर महाविद्यालय की मेधावी विद्यार्थियों मनीषा सुयाल तथा आस्था नेगी के अलावा विभिन्न क्षेत्रों में उत्कृष्ट कार्य करने वाले विद्यार्थियों को सम्मानित किया गया।

ये रहे मौजूद

इस अवसर पर मण्डी समिति के अध्यक्ष गजराज बिष्ट तथा प्रदीप बिष्ट व मेयर जोगेन्द्र पाल सिंह रौतेला ने भी अपने-अपने विचार व्यक्त किये। कार्यक्रम का संचालन डाॅ.विनय शंकर विद्यालंकर द्वारा किया गया। कार्यक्रम में छात्र संघ अध्यक्ष गौरव कोरंगा, उपाध्यक्ष सौरभ कुमार आर्य, छात्रा उपाध्यक्ष शोभा जोशी, सचिव गौरव सनवाल, उप सचिव रवि यादव, कोषाध्यक्ष हिमांशु जोशी, सांस्कृतिक सचिव सागर अधिकारी, विश्वविद्यालय प्रतिनिधि कृति तिवारी के अलावा प्रोफेसर बीएस रावत, अजय राजौर, अरूण राही, समीर आर्य,अरूण राही, मनोज जोशी, सुन्दर आर्य सहित विद्यार्थी एवं महाविद्यालय का स्टॉफ उपस्थित था।