drishti haldwani

हल्द्वानी-जय अरिहन्त लगी तीन दिवसीय हार्टफलनेस मेडीटेशन कार्यशाला, बच्चों को ऐसे बताया शिक्षकों का महत्व

83

हल्द्वानी- शुक्रवार को हल्दूचौड़ अरिहन्त एजुकेशन पार्क में चल रहे तीन दिवसीय हार्टफलनेस मेडीटेशन कार्यशाला का समापन हो गया। इस मौके पर विद्यालय के प्रधानाचार्य कृष्णा जोशी ने बताया कि मौजूदा समय में शिक्षकों के ऊपर देश का भविष्य बनाने की महत्वपूर्ण भूमिका है। इसलिए शिक्षकों का तन व मन से स्वस्थ्य रहना बहुत आवश्यक है। छात्रों के माध्यम से देश को अच्छे नागरिक मिल सकें। इसी उद्देश्य को लेकर विद्या पुष्प एकेडमी व जय अरिहन्त इंटरनेशनल स्कूल से लगभग 35 शिक्षकों के लिए कार्यशाला का आयोजन किया गया।

iimt haldwani

Jai Arihant School Halduchour

हार्टफुल संस्था के जोनल कौरडिन्टेर केएन तिवारी ने बताया कि यह कोर्स यूनेस्कों द्वारा निर्धारित 09 मुख्य मानवीय गुणों को ध्यान में रखकर बनाया गया है। तथा भारत के कई राज्यों सहित कई अन्य देशों में संस्था टे्रङ्क्षनग दे रही है।

Jai Arihant School

संस्था के ट्रेनर बीडी उपाध्याय और जेपी कांडपाल, अनिल बिष्ट, आरके सक्सेना, हेम उपाध्याय तथा केके भट्ट इत्यादि ने तीन दिनों तक ध्यान के माध्यम से बच्चों व स्वयं के विकास हेतु टे्रनिंग दी।