iimt haldwani

हल्द्वानी-(अंतराष्ट्रीय योग दिवस) पीएम मोदी का योग दिवस पर है ये प्लान, आदियोग फांउडेशन और आम्रपाली ऐसे रचेगें इतिहास

255

हल्द्वानी- अंतराष्ट्रीय योग दिवस पर आगामी 21 जून को हल्द्वानी-विश्व योग दिवस (World international yoga day)के दिन आगामी 21 जून को आदि योग फांउडेशन आम्रपाली इंस्टीट्यूट शिक्षा नगर लामाचौड़ योग शिविर का आयोजन करा रहा है। जिससे शहर के कई बड़े लोग शिरकत करेंगे। इसके अलावा शिविर में व्यापार मंडल, बार एसोशिएसन, छात्र संघ समेत कई सामाजिक संस्थाएं प्रतिभाग कर रही है। आदि योग की अध्यक्ष मानसी जोशी ने बताया वह आयुष मंत्रालय द्वारा जारी किये गये योग निर्देशिका के अनुसार किया जायेगा। उन्होंने बताया कि ताड़ासन, वृक्षासन, पादहस्तासन, अर्ध चक्रासन, त्रिकोणासन, भद्रासन, व्रजासन/वीरासन, अर्ध उष्ट्रासन, उष्ट्रासन, शशकासन, उत्तानमंडूकासन, मरीच्यासन/वक्रासन, मकरासन, भुजंगासन, शलभासन, सेतुबंधासन, उत्तानपादासन, अर्ध हलासन, पवनमुक्तासन, शवासन, कपालभाति, नाड़ीशोधन/अनुलोम, विलोम प्राणायाम, शीतली प्राणायाम, भ्रामरी प्राणायाम आदि आसन किये जायेंगे।

drishti haldwani

प्रात: 6 बजे से शुरू होगा शिविर

आम्रपाली के डायरेक्टर शैलेन्द्र ङ्क्षसह ने बताया कि 21 जून को संस्थान मेंं सबसे बड़े योग शिविर का आयोजन होने जा रहा है। जो प्रात: 6 बजे से शुरू होगा। उन्होंने सभी छात्रों से योग शिविर में प्रतिभाग करने को कहा। साथ ही लोगों से इस योग शिविर में प्रतिभाग करने की अपील की। उन्होंने बताया कि योगासन करने से कई सारी बीमारियां ठीक हो सकती है। अगर आप घर पर ही योगासन करने की सोच रहे है तो इसके बारे में सही जानकारी ले कर ही करें। क्यूंकि योगासन अगर सही तरीके से नहीं किया गया तो यह नुकसान भी कर सकता है। योग हमारी जीवन का एक महत्तवपूर्ण अंग बन चुका है। शिविर का डिजिटल मीडिया न्यूज टुडे नेटवर्क है जबकि सोशल मीडिया टीम हल्द्वानी ऑनलाइन 2011 है।

योग मैं से हम की अनोखी यात्रा है-मोदी

अंतराष्ट्रीय योग दिवस पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने संदेश दिया है कि योग भारत के ऋषियों-मुनियों द्वारा विश्व को दिया गया एक अनमोल उपहार है। योग सिर्फ आसन नहीं है बल्कि यह बिना किसी खर्च के फिटनेस और वेलनेस की गारंटी भी देता है। योग प्रात: काल में की जाने वाली एक क्रिया मात्र नहीं है बल्कि यह रोजमर्रा के कार्यों को दक्षता और पूरी सतर्कता के साथ करने की शक्ति भी है। रोग से निरोग होने का मार्ग योग है। योग हमें परिवार, अपने समाज, पशु-पक्षियों और समस्त संसार के साथ एक सूत्र में जुड़े होने की अनुभूति देता है। इस प्रकार योग मैं से हम की अनोखी यात्रा है। तनाव, अवसाद, मधुमेह और उच्च रक्तचाप जैसी बीमारियां धीरे-धीरे व्यक्ति को मार देती है। योग इन सभी बीमारियों का समाधान करता है।