drishti haldwani

हल्द्वानी- इस काले कारोबार में लिप्त है भाजपा नेता, हल्द्वानी के छात्रों को बनता है निशाना

1142

हल्द्वानी- आज हल्द्वानी पुलिस को एक बड़ी सफलता मिली। टीपी नगर पुलिस और एसओजी टीम ने संयुक्तरूप से स्मैक के सौदागरों को गिरफ्तार कर लिया। बताया जा रहा है कि दोनों लंबे समय से स्मैक तस्करी में लिप्त थे। इनमें से एक तस्कर भाजपा का पूर्व नगर उपाध्यक्ष भी रहा है। इससे पहले भी भाजपा का यह नेता रुद्रपुर में गिरफ्तार हो चुका है। तब इसके पास करीब 1.25 लाख रुपये की स्मैक बरामद हुई थी। बताया जा रहा है कि ये दोनों हल्द्वानी में स्कूली छात्रों के अलावा पहाड़ को भी स्मैक की तस्करी करते थे। इससे यह मोटा मुनाफा कमाते थे। आज भी यह 80.94 ग्राम स्मैक बेचने आये थे इससे पहले पुलिस ने इन्हे पकड़ लिया।

iimt haldwani

यह भी पढ़े… हल्द्वानी-पूर्व सीएम हरीश रावत ने ली हार की जिम्मेदारी, दिया कांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव पर से इस्तीफा

पूर्व भाजपा नगर उपाध्यक्ष कान्ति कोली

आज पुलिस ने टांडा बैरियर पर चैकिंग के दौरान कान्ति कोली पुत्र मंगल राम निवासी वार्ड नंबर 23 रम्पुरा रुद्रपुर और सोनू कोली पुत्र स्व. प्रेमशंकर कोली निवासी वार्ड नंबर 8 रम्पुरा रुद्रपुर जिला ऊधमसिंह नगर को रोका तो दोनों सकपकाने लगे। इस दौरान पुलिस ने उनकी तलाशी ली तो कान्ति कोली के कब्जे से 51.79 ग्राम और सोनू के कब्जे से 29.15 ग्राम स्मैक बरामद की। जिसके बाद पुलिस ने उन्हें पकड़ लिया। कान्ति कोली पूर्व में भाजपा का नगर उपाध्यक्ष रह चुका है। पूछताछ में उन्होंने बताया कि वह स्मैक बरेलली कुलडिय़ा निवासी प्रेमपाल और दरउ किच्डा निवासी अनस, समीर नाम के तस्करों से खरीदकर लाते है।

Haldwani BJP leader arrested on supplying drugs in

हल्द्वानी और पहाड़ में करते थे सप्लाई

इसके बाद वह ट्रांजिट कैंप रुद्रपुर में भी स्मैक बेचते है। इसके अलावा डिमांड पर वह हल्द्वानी और पहाड़ में स्मैक सप्लाई करते है। उसने बताया कि पहाड़ और हल्द्वानी के उनके पास बहुत खरीददार है। वह स्कूली छात्रों को स्मैक बेचकर काफी मोटा मुनाफा कमाते है। दोनों के विरुद्ध पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर लिया है। दोनों को कोर्ट में पेश किये जाने की तैयारी चल रही है। इससे पहले भी कान्ति कोली के विरूद्ध रुद्रपुर में कई मामले दर्ज है। पुलिस अन्य जनपदों से दोनों की कुंडली खंगालने में लगी हुई है।

यह भी पढ़े… बनबसा-जब अचानक इस केन्द्रीय विद्यालय में आ धमके अभिभावक, तो सामने आया गुरूजी का घिनौना चेहरा

पहले भी पकड़ा जा चुका है कान्ति कोली

गौरतलब है कि कान्ति कोली भाजपा के पूर्व नगर उपाध्यक्ष पद पर रहे चुके है। स्मैक कारोबार में नाम आने के बाद भाजपा ने उसे पार्टी से बाहर का रास्ता दिखा दिया। इससे पहले ट्रांजिट कैंप में जूतों की दुकान में जूते के डिब्बों के अंदर स्मैक मिली थी। जिसके बाद हुई कार्रवाई में कान्ति कोली सलाखों के पीछे था। बताया जा रहा है कि तीन-चार महीने पहले ही वापस आया। इसके बाद से फिर इस धंधे आ गया। आज पुलिस उन्हें गिरफ्तार कर लिया। पुलिस टीम विक्रम राठौर कोतवाल, सुशील कुमार चौकी प्रभारी टीपीनगर, एसओजी दिनेश पंत आदि मौजूद थे।