drishti haldwani

हल्द्वानी- मकान का नक्शा पास कराने को दर-दर भटक रहे आवेदक, इस लापरवाही को लेकर आर के शर्मा ने कही ये बड़ी बात

162

हल्द्वानी-न्यूज टुडे नेटवर्क- स्थानीय क्षेत्र विकास प्राधिकरण हल्द्वानी में व्याप्त अनियमितताओं और लापरवाही लगातार उजागर हो रही है। इस कार्यालय में वर्षों से चली आ रही भेंट-पूजा प्रथा को तब हवा और मिली जब वर्ष 2017 से उपविभाजन शुल्क, विकास शुल्क, सेस और अन्य चार्जेज किए जाने से ही इस सुविधा शुल्क में एकाएक पांच गुना बढ़ोतरी कर दी गई। उत्तराखंड लाईसेंस्ड इंजीनियर्स एन्ड प्लानर्स ऐसोसिएशन के कार्यकारी अध्यक्ष आर के शर्मा ने बताया कि वह 25 वर्ष के प्रोफेशनल करियर में वर्ष 2017 से नक्शा स्वीकृति का शर्मनाक दौर शुरू हुआ है। उन्होंने कहा कि जहां पर सुविधा शुल्क का अग्रिम भुगतान लिए जाने के बावजूद आवेदक अपना नक्शा पास होने के इंतजार में तीन-तीन माह भटक रहा है।

iimt haldwani

ऊंचे पदों पर बैठे अधिकारियों को भय नहीं- शर्मा

कार्यकारी अध्यक्ष आर के शर्मा ने बताया कि इस पेंडेन्सी की ठोस वजह यह है कि आज कर्मचारियों और अभियंताओं पर प्राधिकरण में किसी भी पद पर बैठे उच्च अधिकारियों का कोई भय नहीं रह गया है और न ही अधिकारियों में इतना नैतिक बल बचा रह गया है कि इतनी शर्मनाक स्थिति आ जाने पर भी ठोस कार्यवाही की मांग की। शर्मा ने बताया कि चार सौ से अधिक भवनों के नक्शे विकास प्राधिकरण में अटके हुए है। जिससे आम जनमानस परेशान है। जबकि महंगाई लगातार बढ़ती जा रही है। 10 प्रतिशत महंगा हो चुका है और गौला में रेते के दाम 125 रुपये प्रति कुंतल हो गये है ऐसे में मकान बनाना किसी सपने से कम नहीं है। उन्होंने बताया कि नक्शे की मंजूरी में भी पिक एंड यूज का खेल चल रहा है।