inspace haldwani
inspace haldwani
Home उत्तराखंड हल्द्वानी- मकान का नक्शा पास कराने को दर-दर भटक रहे आवेदक, इस...

हल्द्वानी- मकान का नक्शा पास कराने को दर-दर भटक रहे आवेदक, इस लापरवाही को लेकर आर के शर्मा ने कही ये बड़ी बात

देहरादून- उत्तराखंड में कोरोना से आज हुई इतनी मौतें, मिले इतने पॉजिटिव केस

उत्तराखंड में आज 491 नये कोरोना संक्रमित मरीज मिलने के साथ ही राज्य में कोरोना का आंकड़ा बढ़कर 76275 हो गया है। जबकि 12...

नैनीताल- अब इस मामले में हाईकोर्ट ने राज्य सरकार को जारी किया नोटिस, 31 दिसंबर तक मांगा जवाब

उत्तराखंड उच्च न्यायालय ने हरिद्वार के सुमन नगर में टिहरी विस्थापितों को मूलभूत सुविधाओ से वंचित रहने के खिलाफ दायर जनहित याचिका पर सुनवाई...

रुद्रपुर: जोशी बने एसएसपी के मुख्य वाचक

रुद्रपुर। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक ने निरीक्षक जी बी जोशी को एसआईटी के कार्यों के अतिरिक्त अपना मुख्य वाचक नियुक्त किया है। उन्होने उपनिरीक्षक देवेंद्र राजपूत...

देहरादून- सीएम त्रिवेन्द्र ने कुंभ 2021 को लेकर दिये ये कड़े निर्देश, स्वास्थ्य सेवाओं का लिया जायजा

मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत गुरुवार को नारसन बार्डर पहुंचे। यहां सबसे पहले उन्होंने कुंभ पर कोविड जांच सेंटर समेत अन्य प्रस्तावित काउंटर के बारे...

देहरादून- भाजपा राष्ट्रीय अध्यक्ष जे पी नड्डा के उत्तराखंड दौरे का ये है टाईम टेबल, गंगा आरती में होंगे शामिल

भाजपा राष्ट्रीय अध्यक्ष जे पी नड्डा हरिद्वार में शांति कुंज व निरंजनी अखाड़ा में संतों से मिलेंगे व गंगा आरती में शामिल होंगे। वे...

हल्द्वानी-न्यूज टुडे नेटवर्क- स्थानीय क्षेत्र विकास प्राधिकरण हल्द्वानी में व्याप्त अनियमितताओं और लापरवाही लगातार उजागर हो रही है। इस कार्यालय में वर्षों से चली आ रही भेंट-पूजा प्रथा को तब हवा और मिली जब वर्ष 2017 से उपविभाजन शुल्क, विकास शुल्क, सेस और अन्य चार्जेज किए जाने से ही इस सुविधा शुल्क में एकाएक पांच गुना बढ़ोतरी कर दी गई। उत्तराखंड लाईसेंस्ड इंजीनियर्स एन्ड प्लानर्स ऐसोसिएशन के कार्यकारी अध्यक्ष आर के शर्मा ने बताया कि वह 25 वर्ष के प्रोफेशनल करियर में वर्ष 2017 से नक्शा स्वीकृति का शर्मनाक दौर शुरू हुआ है। उन्होंने कहा कि जहां पर सुविधा शुल्क का अग्रिम भुगतान लिए जाने के बावजूद आवेदक अपना नक्शा पास होने के इंतजार में तीन-तीन माह भटक रहा है।

ऊंचे पदों पर बैठे अधिकारियों को भय नहीं- शर्मा

कार्यकारी अध्यक्ष आर के शर्मा ने बताया कि इस पेंडेन्सी की ठोस वजह यह है कि आज कर्मचारियों और अभियंताओं पर प्राधिकरण में किसी भी पद पर बैठे उच्च अधिकारियों का कोई भय नहीं रह गया है और न ही अधिकारियों में इतना नैतिक बल बचा रह गया है कि इतनी शर्मनाक स्थिति आ जाने पर भी ठोस कार्यवाही की मांग की। शर्मा ने बताया कि चार सौ से अधिक भवनों के नक्शे विकास प्राधिकरण में अटके हुए है। जिससे आम जनमानस परेशान है। जबकि महंगाई लगातार बढ़ती जा रही है। 10 प्रतिशत महंगा हो चुका है और गौला में रेते के दाम 125 रुपये प्रति कुंतल हो गये है ऐसे में मकान बनाना किसी सपने से कम नहीं है। उन्होंने बताया कि नक्शे की मंजूरी में भी पिक एंड यूज का खेल चल रहा है।

Related News

देहरादून- उत्तराखंड में कोरोना से आज हुई इतनी मौतें, मिले इतने पॉजिटिव केस

उत्तराखंड में आज 491 नये कोरोना संक्रमित मरीज मिलने के साथ ही राज्य में कोरोना का आंकड़ा बढ़कर 76275 हो गया है। जबकि 12...

नैनीताल- अब इस मामले में हाईकोर्ट ने राज्य सरकार को जारी किया नोटिस, 31 दिसंबर तक मांगा जवाब

उत्तराखंड उच्च न्यायालय ने हरिद्वार के सुमन नगर में टिहरी विस्थापितों को मूलभूत सुविधाओ से वंचित रहने के खिलाफ दायर जनहित याचिका पर सुनवाई...

रुद्रपुर: जोशी बने एसएसपी के मुख्य वाचक

रुद्रपुर। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक ने निरीक्षक जी बी जोशी को एसआईटी के कार्यों के अतिरिक्त अपना मुख्य वाचक नियुक्त किया है। उन्होने उपनिरीक्षक देवेंद्र राजपूत...

देहरादून- सीएम त्रिवेन्द्र ने कुंभ 2021 को लेकर दिये ये कड़े निर्देश, स्वास्थ्य सेवाओं का लिया जायजा

मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत गुरुवार को नारसन बार्डर पहुंचे। यहां सबसे पहले उन्होंने कुंभ पर कोविड जांच सेंटर समेत अन्य प्रस्तावित काउंटर के बारे...

देहरादून- भाजपा राष्ट्रीय अध्यक्ष जे पी नड्डा के उत्तराखंड दौरे का ये है टाईम टेबल, गंगा आरती में होंगे शामिल

भाजपा राष्ट्रीय अध्यक्ष जे पी नड्डा हरिद्वार में शांति कुंज व निरंजनी अखाड़ा में संतों से मिलेंगे व गंगा आरती में शामिल होंगे। वे...

देहरादून- सीएम त्रिवेन्द्र के इस निर्णय से करोड़ों श्रद्धालुओं की इच्छा हुई पूरी, प्रदेश अध्यक्ष ने ऐसे किया शासनादेश का स्वागत

भाजपा प्रदेश अध्यक्ष बंशीधर भगत ने राज्य सरकार द्वारा हरिद्वार में गंगा को स्क्रैप चैनल घोषित किए जाने के शासनादेश को रद्द करने का...