drishti haldwani

हल्द्वानी-(बड़ी खबर) इसलिए दबाया गया था पूर्व सीएम तिवारी के बेटे रोहित शेखर का गला, तोते की तरह बोला हत्यारा

132

हल्द्वानी-न्यूज टुडे नेटवर्क-पूर्व सीएम नारायण दत्त तिवारी के बेटे रोहित शेखर की हत्या के पीछे कई राज लगातार बेपर्दा हो रहे है। रोहित की मौत के बाद सबसे बड़ा खुलासा पीएम रिपोर्ट में हुआ कि उनकी हत्या की गई है। इसके बाद हत्या का मुकदमा दर्ज कराया गया। मामला हाई प्रोफाइल होने के कारण इसकी जांच क्राइम ब्रांच को सौंपी गई। क्राइम ब्रांच ने हर दिन एक के बाद एक खुलासे कर दिये। शुरू से ही रोहित की पत्नी शक के दायरे में थी और अभी भी वहीं पूरी तरह शक के घेर में है। क्राइम ब्रांच की पूछताछ में अपूर्वा ने बताया कि रात में वीडियो कॉल के बाद रोहित की महिला मित्र उसके साथ थी जिसके बाद रोहित और उसका झगड़ा हुआ। झगड़े में हाथापाई हुई। दोनों ने एक-दूसरे का गला दबाया। इसके बाद वह चली गई। अपूर्वा लगातार इस केस को गैर इरादतन हत्या साबित करने में लगी हुई है लेकिन क्राइम ब्रांच की नजर अब नाखूनों और खून की रिपोर्ट पर अटकी है।

iimt haldwani

 

अपूर्वा ने खोला था रोहित का मोबाइल

अंतिम बार अपूर्वा की रोहित के कमरे से बाहर निकली थी। रोहित की मौत का समय और अपूर्वा के बाहर निकले का समय लगभग एक ही है। वही रोहित के मोबाइल से फोन करने की कोशिश उसने की गई थी। रोहित के मोबाइल से फोटो और चैट उसी ने डिलीट किया। यह सब क्राइम ब्रांच उगलवा चुकी है। जिस तरह से रोहित की मां उज्जवला के बयान आये है उससे पूरा शक अपूर्वा की ओर है। रोहित और अपूर्वा का रिश्ता ठीक नहीं चल रहा था, कई बार इसी मामले को लेकर उन दोनों के बीच झगड़ा हुआ था। हालांकि अपूर्वा लगातार बचने के लिए परिवार की ही किसी महिला के साथ रोहित के संबंध होने की बात कर रही है। जबकि उज्जवला का कहना है कि ऐसा कुछ नहीं है बल्कि अपूर्वा का शादी से पहले बॉयफे्रड था। ऐसे में यह मामला प्रॉपटी का नही होकर मिया-बीबी के बीच तीसरे की एंट्री होना लगता है। फिलहाल क्राइम ब्रांच अपने केस के खुलासे के अंतिम पड़ाव में है।