drishti haldwani

हल्द्वानी-लोकगायक महेश कुमार ने नये गीत से किया धमाका, दिलाई पुराने दिनों की याद

486

हल्द्वानी-Uttarakhando Songs लोकगायक महेश कुमार (Public Singer Mahesh Kumar) का एक नया धमाकेदार गीत आज रिलीज हो गया। लांच होते ही इस गाने को हजारों ने देखा। (Public Singer Mahesh Kumar) लोकगायक महेश कुमार का कैकी ना सरम गीत उत्तरायणी फिल्म प्रोडक्सन चैनल से रिलीज हुआ है। इससे पहले भी महेश कई सुपर हिट गीत दे चुके हैं। उत्तराखडं की लोकगायकी में महेश कुमार (Public Singer Mahesh Kumar) बड़ा नाम कमा चुके हैं। यह गीत पति-पत्नी के हंसी-मजाक को लेकर बनाया गया है। जिसमें पति के दिनभर के काम से लेकर उसके बहाने बनाये जाने के तरीकों का खूबसूरत वर्णन किया गया है। लंबे समय बाद दर्शकों को कुछ नया सुनने को मिला है। अक्सर पुराने समय में ऐसे गीतों की रचना लोकगायक किया करते थे लेकिन धीरे-धीरे इस तरह के गीत विलुप्त होने लगे। लेकिन एक बार फिर महेश कुमार ने पति-पत्नी की नोकझोंक पर आधारित गीत दर्शकों के बीच रखा है।

iimt haldwani

लोकगायक महेश कुमार (Public Singer Mahesh Kumar) ने बताया कि अभी तक सैकड़ों गीत गा चुके हैं। शीघ्र ही कई सुपरहिट गीत दर्शकों को सुनने को मिलेंगे। उन्होंने बताया कि आज के दौर में लोग पुरानी चीजों को भूलते जा रहे हैं। लेकिन उनके गीतों में उत्तराखंड की संस्कृति से जुड़ी पुरानी चीजें सुनने को मिलेंगी। उन्होंने कहा कि ज्यादातर लोग पलायन करन बड़े-बड़े शहरों में बस गये है लेकिन उन्हें अपनी संस्कृति और रीति-रिवाज नहीं भूलने चाहिए। कैकी ना सरम गीत पति-पत्नी को लेकर बनाया गया है। (Public Singer Mahesh Kumar) महेश कुमार के गीतों को लोग पसंद करते आये है। उनकी सुरीली आवाज के लोग दीवाने हो चुके हैं।

गौरतलब है कि महेश कुमार(Public Singer Mahesh Kumar)  को सौली धुरा धुर जंगला से पहचान मिलने के बाद कोसी गाड़ा धाना, लागछी तू बड़ी झम्म, त्यर भक्त हैगे सब, भाना बामणी, ओ धना जैसे सुपरहिट गीतों से दर्शकों का खूब मनोरंजन किया। गरीबी से निकलकर महेश कुमार ने उत्तराखंड के संगीत जगत में बड़ा नाम कमाया है। आज वह लोगों की पहली पसंद बन चुके हैं। हर शादी-पार्टियों में उनके गीतों का कब्जा है। खासकर महेश ने गीतों के बीच अंतरों को एक नया अंदाज दिया है जो लोगों को काफी भा रहा है।