iimt haldwani

हल्द्वानी-फर्जी नंबर से चला रहा था चोरी का कैंटर, पकड़ा गया तो पता चला दर्जनों अपराधों में लिप्त था ये युवक

741

हल्द्वानी-न्यूज टुडे नेटवर्क- विगत दिनों शनि बाजार रोड से चोरी हुए केंटर को पुलिस ने बरामद कर लिया है। इसके साथ ही एक आरोपी को पुलिस ने गिरफ्तार किया है जबकि एक आरोपी अभी भी पुलिस की पकड़ से बाहर है। पकड़ा गया आरोपी युवक फिरोजाबाद का रहने वाला है। बता दें कि विगत दिवस मो. आजम पुत्र निवासी काबुल का गेट इन्द्रानगर बनभूलपुरा ने शनिबाजार स्थित रोड से अपने आयशर केन्टर चोरी होने पर मुकदमा दर्ज कराया था। जिसके बाद पुलिस ने इस पर कार्यवाही शुरू करते हुए एक आरोपी को केंटर समेत गिरफ्तार कर लिया। आज कोतवाली पुलिस ने इस घटना का खुलासा किया।

amarpali haldwani

मोतीनगर बैरियर के पास किया गिफ्तार

गौरतलब है कि कैंटर चोरी की घटना के बाद एसएसपी ने चोरों का शीघ्र पता लगाने के आदेश दिये थे जिस पर बनभूलपुरा पुलिस ने कार्रवाई करते हुए विगत दिवस मुखबिर की सूचना पर शाहिद कुरैशी पुत्र इकबाल कुरैशी निवासी झमैय्या टोला, होली वाली भट्टी के पास थाना रसूलपुर जिला फिरोजाबाद यूपी को मोतीनगर बैरियर से चोरी हुए आयशर केन्टर मुकदमा उपरोक्त के साथ गिरफ्तार किया गया। इस दौरान पूछताछ में उसने बताया कि मेरी एक अन्य कैन्टर गाड़ी संख्या यूपी 83एटी 7688 है। वह यूपी व उत्तराखण्ड में बुकिंग में चलाता है। उसने बताया कि मैं और मेरा दोस्त आशिक अली उर्फ अटुआ उर्फ इमरान पुत्र जस्सू निवासी नगला खेरी पोस्ट कारौल थाना सिरसागंज जिला फिरोजाबाद भी माल लेकर भीमताल आये थे।

हल्द्वानी से चोरी हुआ था कैंटर

इस दौरान रात एक कैन्टर गाड़ी बड़ी मण्डी के सामने शनिबाजार रोड के किनारे खड़ी देखी जिनको हम दोनों ने मिलकर अपने कैन्टर की चाबी लगाकर खोल लिया था। फिर हम दोनों उस चोरी की कैन्टर को लालकुंआ होते हुए बरेली से शिकोहाबाद ले गये थे। वहां ले जाकर मैंने व मेरे साथी आशिक उपरोक्त ने नम्बर यूपी 21 एन-4254 को परिवर्तित कर उसकी जगह यूके 04 एन-4254 लिख दिया तथा बाडी व अन्य जगहों पर गाड़ी नंबर को लोहे की पत्ती से हटा दिया। वह अपना कैन्टर है वह फिर से माल लेकर उसका ड्राइवर भीमताल लाया था। इसलिए वह चोरी किये गये कैन्टर का नंबर बदलकर हल्द्वानी आ रहा था, कि दोनों कैन्टरों में माल भरकर वापस फिरोजाबाद चले जायेंगे। लेकिन पुलिस ने उसे पकड़ लिया।

हरियाणा में दर्ज है कई मुकदमें

जब पुलिस ने उसका आपराधिक रिकॉर्ड खंगाला तो पुलिस के होश उड़ गये। गिरफ्तार शाहिद कुरैशी का फिरोजादबाद बड़ा आपराधिक इतिहास है। उस पर कई मामलों पर मुकदमें दर्ज है। तीन बार उसपर रामनगर से वाहन चोरी के मुकदमें दर्ज है। इसके अलावा फिरोजाबाद, फरीदाबाद में भी उसके खिलाफ कई मुकदमे दर्ज है। इससे पहले वह दिल्ली में जेल भी जा चुका है। पुलिस उसका और आपराधिक रिकॉर्ड खंगालने में जुट गई है। उसके पास से वाहन के मूल कागज, नंबर प्लेट, दो मोबाइल व 550 रुपये बरामद किये गये।